khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदुनियाभर की खबरेप्रभावशाली व्यतिराष्ट्रीयविशेष कवरस्टोरी

जनपद को शिक्षा का हब बनाने हेतु एक मुहिम, 09 ब्लाॅकों के 09 स्कूलों में बने रीडिंग रूम/पुस्तकालय।

‘‘जनपद को शिक्षा का हब बनाने हेतु एक मुहिम, 09 ब्लाॅकों के 09 स्कूलों में बने रीडिंग रूम/पुस्तकालय।‘‘

‘‘पुस्तकालयों में बच्चों की जरूरत एवं मांग के अनुसार निःशुल्क उपलब्ध हों किताबें- जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल।‘‘

Advertisement

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित द्वारा जिला पुस्तकालय श्रीदेव सुमन को हाइटेक करने के साथ ही जनपद के 09 ब्लाॅकों के 09 स्कूलों में रीडिंग रूम/पुस्तकालय तैयार किए गये हैं।

Advertisement

गुरूवार को जिलाधिकारी ने सभी ब्लॉक के 09 पुस्तकालयों यथा रा.इ.मी.का. पौड़ीखाल देवप्रयाग, रा.इ.मी.का. नैनबाग, अ.उ.रा.इं.कालेज पावकी देवी नरेंद्रनगर, रा.इ.मी.का. मदननेगी जाखणीधार, रा.इ.मी.का. मथकुड़ीसैण भिलंगना, रा.इ.मी.का. कीर्तिनगर, रा.इ.मी.का. गरवाणगाँव प्रतापनगर, रा.इ.मी.का. नकोट चंबा, रा.इ.मी.का. कमान्द थौलधार के छात्र- छात्राओं से वीसी के माध्यम से चर्चा की।

इस मौके पर बच्चे काफी खुश नजर आये, उन्होंने उत्साहित होकर जिलाधिकारी से बात की तथा धन्यावाद ज्ञापित किया। जिलाधिकारी ने सभी प्रधानाचार्य को निर्देश दिये गये कि छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के लिए प्रेरित कर पुस्तकालयों में बैठाकर पढ़ाई का माहौल बनायें।

Advertisement

इसके साथ ही पुस्तकालयों में बच्चों की जरूरत एवं मांग के अनुसार निःशुल्क किताबें को उपलब्ध कराने को कहा गया।

श्रीदेव सुमन जिला पुस्तकालय में रोस्टर बनाकर प्रातः 09 से सांय 05 बजे तक खुला रखने को कहा गया, ताकि बच्चे बिना रोक-टोक अपने सुविधानुसार किसी भी समय पुस्तकालय में आ सकें।

Advertisement

जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी और सभी एसडीएम से कहा कि छात्र-छात्राओं को पढ़ने के लिए सुरक्षित और शांत वातावरण मिल सके, इस हेतु अधिक से अधिक रिडिंग रूम बनाने के लिए सामुदायिक भवन या सरकारी भवन को चिन्ह्ति कर प्रस्ताव भेजें।

जिलाधिकारी ने कहा कि हर ग्राम पंचायात में एक पुस्तकालय हो, ताकि बच्चे किताबों की ओर अग्रसर हो सकें।

Advertisement

ब्लाॅकों में बनाये गये पुस्तकालयों का अधिक से अधिक उपयोग हो सके और वे केवल स्टोर बनकर न रह जायें इस हेतु जिलाधिकारी ने स्कूल छोड़ चुके बच्चों और पढ़ाई की इच्छुक महिलाओं को भी पुस्तकालय से जोड़ने के लिए प्रधानाचार्यों को उनका विवरण उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

इसके साथ ही स्कूल समय के बाद भी पुस्तकालय संचालित हो सके, इसके लिए अतिरिक्त स्टाॅफ को तैनात करने को कहा गया।

Advertisement

इस मौके पर उपजिलाधिकारी प्रतापनगर आशिमा गोयल द्वारा प्रतापनगर क्षेत्र के विभिन्न स्कूलोें के अध्यापकों के सहयोग से कक्षा 10 एवं 12 के छात्रों हेतु प्रत्येक विषय को लेकर तैयार किया गया ‘‘परीक्षा जीतो अभियान‘‘ प्रोजेक्ट को पीपीटी के माध्यम से प्रसारित किया गया।

जिलाधिकारी के निर्देशन में जनपद के सुदूर क्षेत्रों में पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्राओं एवं विशेष रूप से पढ़ाई में कमजोर बच्चों को लेकर ‘‘परीक्षा जीतो अभियान‘‘ प्रोजेक्ट में 10 साल के परीक्षा प्रश्न पत्रों से प्रश्न उठाकर माॅड्यूल तैयार किया गया है।

Advertisement

इसके साथ ही लेक्चर वीडियों भी तैयार किये जा रहे हैं, ताकि बच्चे वीडियों के माध्यम से भी पढ़ सकें और उनका पढ़ाई के प्रति आत्मविश्वास बढ़ सके।

जिलाधिकारी ने ‘‘परीक्षा जीतो अभियान‘‘ प्रोजेक्ट को लेकर कहा कि यह एक सराहनीय कार्य है और निश्चित ही इससे बच्चों को काफी सहायता मिलेगी, अच्छे परिणाम प्राप्त होने पर वीडियों सामाग्री को जनपद के अन्य स्कूलों में भी साझा किया जायेगा।

Advertisement

खण्ड शिक्षा अधिकारी को परीक्षा जीतो अभियान की सामग्री सभी बच्च्चों को उपलब्ध कराने तथा पढ़ाई में कमजोर छात्र-छात्राओं के अभिभावकों के साथ फरवरी में ही बैठक करने को कहा गया। जिलाधिकारी सभी छात्र-छात्राओं से कहा कि परीक्षा को लेकर घबरायें नहीं, अभी से तैयारी शुरू कर दें।

इस मौके पर अपर जिलाधिकारी के.के. मिश्रा, एसडीएम टिहरी संदीप कुमार उपस्थित रहे, जबकि सीईओ एस.पी. सेमवाल, डीईओ बेसिक वी.के. ढौंडियाल सहित नौ ब्लाॅक के नौ स्कूलों के प्रधानाचार्य एवं छात्र-छात्राएं वीसी के माध्यम से जुडे रहे।

Advertisement

 

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-ऋषिकेश में देशभक्ति पर आधारित नुक्कड़ नाटक व निबंध लेखन का आयोजन, एमबीबीएस व पैरामेडिकल विद्यार्थियों की विभिन्न टीमों ने बढ़चढ़ कर किया प्रतिभाग।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-विद्यार्थी हिन्दी साहित्य पर विशेष ध्यान दें । डॉ0 हिमांशु पांडे

khabaruttrakhand

आरोप:- ग्रामीण विकास की रीड मनरेगा ने प्रधानों को बनाया कर्जदार,रविन्द्र राणा अध्यक्ष प्रधान संगठन।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights