khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारआध्यात्मिकउत्तरकाशीउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदेहरादूनविशेष कवरस्टोरी

ब्रेकिंग:-मई माह में हो रही बर्फबारी उच्च हिमालई क्षेत्रों के ग्लेशियरों के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं ।

मई माह में हो रही बर्फबारी उच्च हिमालई क्षेत्रों के ग्लेशियरों के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं

रिपोर्ट-सुभाष बडोनी उत्तरकाशी

Advertisement

उत्तरकाशी के उच्च हिमालयी क्षेत्रों में हुई वेमौसमी बर्फबारी ग्लेशियरों के लिए वरदान साबित हो रही है।

विशेषज्ञों की माने तो उच्च हिमालयी क्षेत्र जैसे माँ गंगा का उदगम स्थल गोमुख,तपोवन में मई माह में हो रही बर्फबारी ग्लेशियरों के लिए बहुत लाभदायक है।

Advertisement

क्योंकि ग्लेशियर मेल्टिंग इस वजह से बहुत कम होती है खासकर हिमालय क्षेत्र में ताजी बर्फबारी ग्लेशियरों के लिए संजीवनी का काम करती है।

गोमुख तपोवन से ट्रैकिंग करके वापस छोटे ट्रैक्टरों का कहना है कि हम 9 मई के आसपास गोमुख और तपोवन ट्रैक करके वापस लौटे और हमने देखा कि गोमुख और तपोवन में अभी भी बर्फबारी रुक रुक कर जारी है गोमुख और गंगोत्री के ऊपरी क्षेत्रों में अच्छी खासी बर्फ देखने को मिल रही है।
जबकि तपोवन क्षेत्र में एक फीट बर्फ जमी हुई है जिससे ग्लेशियर के पिघलने की रफ्तार बहुत कम हुई है यह स्थिति यदि पूरे ग्रीष्म काल तक रहती है तो यह पर्यावरण के और हिमालय के ग्लेशियरों के लिए अच्छे संकेत देने वाली बात है। बर्फबारी होने से गेलेशियरों की परतें मोटी होगी तो यह जल्दी नहीं पिघल सकेंगे अमूमन देखने में आता था कि आजकल अत्यधिक गर्मी होने के कारण ग्लेशियर पिघलने शुरू हो जाते थे और नदियों का जलस्तर बढ़ जाता था लेकिन इस बार ऐसा बिल्कुल भी नहीं दिखाई दे रहा है नदियों का जलस्तर काफी कम है।

Advertisement

ताजा तस्वीरें 9 मई की गंगा के उद्गम गोमुख की हैं जिन्हें देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस बार ग्लेशियर बर्फबारी से कितने रिचार्ज हुए हैं गंगोत्री, गोमुख ग्लेशियरों के पिघलने की रफ्तार कम होने से नदी का जलप्रवाह कम है।
ऊपरी इलाकों में बर्फ जमी हुई है। ऐसे में ग्लेशियर नहीं पिघल रहे हैं। इसका सीधा असर जल विद्युत परियोजनाओं में बिजली संकट पड़ सकता है।

Advertisement

Related posts

श्रीमती प्रज्ञा दीक्षित (पत्नी जिलाधिकारी मयूर दीक्षित) द्वारा  आंगनवाड़ी केंद्र गुनोगी (उदयकोट) विकास खण्ड चम्बा पहुंचकर किशोरियों एवं महिलाओं को सैनिटरी नैपकिन किये गए वितरित।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश श्री योगी आदित्यनाथ पहुंचे श्री बैकुण्ठ धाम, मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर उत्साहित जवानों ने लगाये भारत माता की जय के नारे।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-गैर संचारी (एनसीडी) रोगों को नियंत्रित करने के लिए फैमिली फिजिशियन की भूमिका अहम।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights