khabaruttrakhand
उत्तराखंडदेहरादूनराजनीतिक

Lok Sabha Election 2024: गठबंधन के बीच Haridwar लोस सीट पर SP की निगाहें, ऐसा है वोटों का गणित

Lok Sabha Election 2024: गठबंधन के बीच Haridwar लोस सीट पर SP की निगाहें, ऐसा है वोटों का गणित

Lok Sabha Election 2024:आगामी लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और Congress गठबंधन के बीच अब समाजवादी पार्टी Uttarakhand की टीम को Haridwar सीट पर टिकट का इंतजार है। इस सीट पर लोकसभा चुनाव में पार्टी का प्रत्याशी एक बार जीत दर्ज कर चुका है। वहीं, एक बार विधानसभा चुनाव में भी प्रत्याशी ने यहां जीत दर्ज की थी। आलाकमान ने अभी 10 मार्च तक का समय दिया है।

वोटों के गणित के हिसाब से समाजवादी पार्टी अपने लिए Haridwar सीट को मुफीद मानती है। 1996 के विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी अमरीश कुमार और 2004 लोकसभा चुनाव में उनके प्रत्याशी राजेंद्र कुमार के चुनाव जीतने के बाद से हर चुनाव में सपा इस सीट पर अपनी जीत की जुगत भिड़ाती आई है। इस बार भी राज्य के SP नेताओं की निगाहें इस सीट पर हैं, जिसकी तैयारी भी अंदरखाने चल रही है।

Advertisement

Haridwar सीट पर ही दावा पेश किया

इस बीच UP में सपा और Congress का गठबंधन हो गया है। ऐसे में मुश्किल ये है कि Congress के हाथों से Uttarakhand की पांचों लोकसभा सीटों में से कोई SP के हाथ आएगी या नहीं, इस पर पार्टी आलाकमान को निर्णय लेना है। SP के प्रदेश अध्यक्ष शंभूनाथ पोखरियाल का कहना है कि आलाकमान ने अभी 10 मार्च तक इंतजार करने को कहा है।

इसके बाद तय होगा कि उनका प्रत्याशी Uttarakhand के चुनावी मैदान में दम दिखाएगा या नहीं। पार्टी के राष्ट्रीय सचिव डॉ. सत्यनारायण सचान का कहना है कि अभी आलाकमान को इस पर निर्णय लेना है। बताया, राज्य की ओर से Congress सीट पर ही दावा पेश किया गया है।

Advertisement

सीट न मिली तो Congress को समर्थन

UP के गठबंधन के हिसाब से देखें तो अगर SP को Uttarakhand में कोई सीट नहीं मिली तो पार्टी पांचों सीटों पर कांग्रेस को समर्थन दे सकती है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को इस पर निर्णय लेना है।

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-थानाध्यक्ष द्वारा स्थानीय युवाओं को नशे के दुष्परिणामों के प्रति जागरुक करते हुए दी गई फिजिकल फिटनेस एवं सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग।

khabaruttrakhand

Uttarakhand: चुनाव से पहले और जीत के बाद जुड़वां बच्चों के लिए प्रतिनिधि अयोग्य नहीं, Dhami कैबिनेट का फैसला

srninfosoft@gmail.com

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights