khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडदिन की कहानीनैनीताल

ब्रेकिंग:-ग्रामीणों ने गुलदार, समेत आवरा जानवरों कुत्तों, बंदरो तथा लँगूरों को पकड़ने के स्थायी समाधान की मांग की।

गुलदार, समेत आवरा जानवरों कुत्तों, बंदरो, लँगूरों को पकड़ने का स्थायी समाधान हो अस्थायी नही। गिरीश चन्द्र।

रिपोर्ट। ललित जोशी।
सरोवर नगरी नैनीताल से दूर जनपद नैनीताल के विकास खण्ड कोटाबाग के ग्राम सभा पांडे गाँव इन दिनों खुले आम सड़को पर गुलदार घूम रहा है।

Advertisement

जिससे वहां रहने वाले लोगों में भय का साया हर समय मंडरा रहा है।
यहाँ बताते चलें कि दिनेश जोशी निवासी गजारी तोक की पालतू गाय को भी गुलदार ने अपना निवाला बना डाला है।
सामाजिक कार्यकर्ता गिरीश चन्द्र ने जानकारी देते हुए बताया।
इधर पांडे गांव के ग्राम प्रधान गिरीश चन्द्र ने यह भी बताया कि
ग्राम सभा पांडे गांव में गुलदार घूम रहे हैं पर कोई भी ग्रामीणों की समस्या को हल करने के लिए अभी तक आगे नही आया है।
पंत ने कहा यहाँ तक भी कहा कि नैनीताल विधायक सरिता आर्या भी चुनाव जीतने के बाद एक बार इस क्षेत्र में आयी है ना ही कोई सरकार का कोई प्रतिनिधि यहाँ पर आये जिससे ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।
श्री पंत ने कहा कि वन विभाग के कर्मचारी आते हैं।
मुआवजा आदि देकर चले जाते हैं उन्होंने कहा कि मुवावजा से क्या होता।
कभी कोई अप्रिय घटना घट गई तो इसका जिम्मेदारी किसकी होगी।
उन्होंने कहा अस्थायी समाधान नहीं स्थायी समाधान होना चाहिए। ग्रामीणों ने कई बार वन विभाग प्रशासन से कह दिया गुलदार को पकड़ने के लिए व्यस्था की जाये। अब ग्रामीण वासी प्रशासन के घेराव का मन बना चुके हैं।
पूरे उत्तराखंड में आवारा कुत्तों, बंदरो, लँगूरों ने आतंक मचाया हुआ है।कई लोगों को काटकर घायल कर दिया पर अभी तक कोई ठोस कदम सरकार द्वारा नही उठाये गए हैं।
जबकि हाईकोर्ट ने भी संज्ञान लेते हुए इन समस्याओं के समाधान के लिए सरकार व प्रशासन से कहा है।
इस दौरान योगेश पंत, हरीश पंत, जगतनारायण, आदि ग्रामीण मौजूद रहे।

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-ब्रिगेडियर अजय सिंह नेगी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति वशिष्ठ सेवा पदक से सम्मानित करने के लिए किया गया नामित ।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-नौगांव स्थित होटल में देर रात्रि को लगी आग।

khabaruttrakhand

Board Exams: हैलो डॉक्टर! जो भी याद करती हूं, भूल जाती हूं… मनोविज्ञानी ने दिए कई सवालों के जवाब, मोबाइल की लत से अभिभावक परेशान

srninfosoft@gmail.com

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights