khabaruttrakhand
Delhi NCR

Delhi Solar Policy: ‘AAP’ का दावा- LG ने Delhi सरकार की सोलर पॉलिसी रोकी, राजभवन ने आरोपों को बताया गलत

Delhi Solar Policy: 'AAP' का दावा- LG ने Delhi सरकार की सोलर पॉलिसी रोकी, राजभवन ने आरोपों को बताया गलत

Delhi सरकार के नए सोलर नीति को लेफ्टिनेंट गवर्नर वीके सक्सेना ने प्रतिबंधित कर दिया है। इस दावे को Delhi सरकार ने किया है। CM Kejriwal ने कुछ दिन पहले एक प्रेस सम्मेलन में नई सोलर नीति की घोषणा की थी। उन्होंने दावा किया था कि सोलर नीति से Delhi का बिजली बिल शून्य कर दिया जाएगा। Delhi विधानसभा में, मंत्री आतिशी ने सोलर नीति को रोकने के निर्णय की जानकारी देते हुए आरोप लगाया कि गवर्नर BJP नेता की भूमिका में कार्रवाई कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह कार्रवाई उस काम को कर रहे हैं, जो विधानसभा में प्रमुख विपक्षी नेता को करना चाहिए। इस नीति के रोकने के खिलाफ एक निंदनीय प्रस्ताव विधायक सभा में पारित हुआ।

वहीं, इस मामले में राज भवन ने इन आरोपों को खारिज किया है। सूत्रों के अनुसार, राजभवन ने सोलर नीति को रोका नहीं है। राजभवन से जुड़े सूत्र दावा करते हैं कि इस नीति में ऐसी कोई प्रावधान नहीं है जिससे लोगों के बिजली बिल को शून्य किया जा सके। उपरांत, इस नीति में ‘RESCO’ प्रावधान है जिससे केवल निजी बिजली कंपनियों को ही लाभ होगा। LG ने इस प्रावधान पर विवरण मांगा है। उन्होंने यह भी पूछा है कि इस नीति में ऐसा कोई प्रावधान है क्या जिससे भारत सरकार के हजारों करोड़ के पूंजी सब्सिडी का उपयोग करके उपभोक्ताओं को लाभ हो?

Advertisement

मुख्यमंत्री Arvind Kejriwal ने बताया था कि सरकार ने नई सोलर नीति-2024 को जारी किया। पहले, सोलर नीति 2016 में जारी की गई थी। उन ने बताया कि वे लोग जो नई नीति को अपनाएंगे, उनका बिजली बिल शून्य होगा और उन्हें अन्यथा भी रु. 700 से रु. 900 की अतिरिक्त आय मिलेगी। सोलर पैनल लगाने पर उपभोक्ताओं का खर्च चार वर्षों में ही वापस किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2016 में जारी होने वाली सोलर नीति पूरे देश में सबसे प्रगतिशील नीति थी। इस नीति के तहत अब तक Delhi के लोगों ने अपने घरों की छतों पर लगभग 250 मेगावॉट क्षमता के सोलर पैनल लगा लिए हैं। इसके अलावा, सोलर नीति 2016 के तहत, डिस्कॉम ने बाहर से 1250 मेगावॉट सोलर ऊर्जा खरीदी है। इस प्रकार, सोलर नीति 2016 के तहत अब तक Delhi में लगभग 1500 MW सोलर ऊर्जा लग चुकी है।

Advertisement

नई नीति की विशेषता को बताते हुए उन्होंने कहा कि इसके तहत जो भी लोग सोलर पैनल लगाएंगे, उनका बिजली बिल शून्य हो जाएगा। 201 से 400 इकाइयों का बिजली उपभोक्ता का बिजली बिल शून्य होगा और 400 से अधिक इकाइयों का बिजली बिल भी शून्य हो जाएगा।

Delhi सरकार ने कहा है कि सोलर पैनल लगाने के बाद उपभोक्ताओं को 25 वर्षों के लिए मुफ्त बिजली मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस नीति के तहत सोलर पैनल खरीदने में जो भी लोग निवेश करेंगे, उस धन को चार वर्षों के भीतर वापस पाया जाएगा। क्योंकि हमने इस नीति के तहत कई सब्सिडी का प्रावधान किया है।

Advertisement

Related posts

Lok Sabha Election: Delhi में AAP और UP में SP से गठबंधन करके चुनाव लड़ेगी Congress, ऐसे होगा सीट बंटवारा

cradmin

Delhi Assembly session: CM Kejriwal ने कहा, मैं लाल किले पर खड़ा होकर कहूंगा ‘BJP को वोट दो’

cradmin

22 जनवरी को सरकारी दफ्तरों में आधे दिन की छुट्टी, 2:30 बजे तक बंद रहेंगे, Delhi के LG VK Saxena ने किया ऐलान

cradmin

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights