khabaruttrakhand
Uttar Pradeshराजनीतिक

Lucknow Lok Sabha: वोट 27.93 प्रतिशत तक बढ़ा, फिर भी हार गई Congress, सिर्फ 2009 में मुश्किल में आई BJP

Lucknow Lok Sabha: वोट 27.93 प्रतिशत तक बढ़ा, फिर भी हार गई Congress, सिर्फ 2009 में मुश्किल में आई BJP

Lucknow Lok Sabha: BJP का गढ़ कही जाने वाली Lucknow Lok Sabha पर 2009 के आम चुनाव में पार्टी का वोट शेयर 21.19 प्रतिशत कम हो गया था। हालांकि, सीट BJP के पास ही रही। इस चुनाव में विपक्ष का वोट शेयर 27.93 फीसदी बढ़ा, लेकिन मत कम मिलने से Congress प्रत्याशी को हार का सामना करना पड़ा। बीते तीन दशक में पहली बार पार्टी को मिलने वाला वोट शेयर कम होने से BJP संगठन ने अपने कद्दावर नेता राजनाथ सिंह को 2014 में मैदान में उतारा तो पिछले सारे रिकार्ड टूट गए और वोट शेयर 19.34 प्रतिशत तक बढ़ गया।

दरअसल दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सीट से 2009 के चुनाव में BJP के वरिष्ठ नेता लालजी टंडन को मैदान में उतारा गया। इसमें उन्हें 2,04,028 वोट मिले, जोकि वर्ष 2004 की तुलना में पार्टी का वोट शेयर 21.19 प्रतिशत कम था। हालांकि, विपक्ष के प्रत्याशी से अधिक मत मिलने के चलते BJP को जीत मिली। इस चुनाव में BJP को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की कमी बेहद खली। जिसका पूरा लाभ Congress को मिला। वहीं, 2004 के लोकसभा चुनाव की तुलना में Congress का मत 27.93 प्रतिशत बढ़ गया। हालांकि, इस चुनाव में Congress प्रत्याशी रीता बहुगुणा जोशी 1,63,127 वोट पाने के बावजूद हार गईं। BJP की परंपरागत सीट पर 21.19 प्रतिशत वोट शेयर गिरने से संगठन सोचने पर मजबूर हो गया।

Advertisement

राजनाथ ने तोडे़ रिकॉर्ड

2014 में BJP ने राजनाथ सिंह को मैदान में उतारा तो मतदान के सारे रिकॉर्ड टूट गए। BJP का वोट शेयर 19.34 प्रतिशत तक बढ़ गया। राजनाथ सिंह ने इस चुनाव में 5. 61 लाख से ज्यादा वोट हासिल किए। Congress की रीता बहुगुणा जोशी को सिर्फ 2.88 लाख वोट मिले। इस चुनाव में राजनाथ सिंह ने लखनऊ से 2.77 लाख से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की। इसी तरह 2019 के चुनाव में राजनाथ सिंह ने 3.47 लाख से ज्यादा वोटों से BJP का परचम लहराया।

इसलिए लखनऊ है महत्वपूर्ण

लखनऊ से BJP पिछले आठ चुनाव जीतती आ रही है। 1991 से पांच बार अटल बिहारी बाजपेयी यहां से सांसद रहे। इसके बाद 2009 में लालजी टंडन और 2014 व 2019 में लगातार दो बार राजनाथ सिंह सांसद रहे हैं। तीसरी बार फिर BJP ने राजनाथ सिंह पर ही भरोसा जताया है। बीते आठ चुनावों में अगर 2009 का लोकसभा चुनाव छोड़ दिया जाय तो BJP प्रत्याशी हर बार बड़े अंतर से जीतता रहा है। वोट शेयर भी समृद्ध बना रहा।

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-जनता मिलन कार्यक्रम के तहत जिलाधिकारी ने सुनी जनसमस्याएं, जाने क्या थे मुख्य बिंदु।

khabaruttrakhand

Chamoli: CM Dhami गोपेश्वर में करेंगे आज रोड शो…प्रदर्शन कर रहे Congress कार्यकर्ताओं ने दी गिरफ्तारियां

cradmin

ब्रेकिंग:-शीतलहर के दौरान निराश्रित व असहाय लोगों को ठंड से बचाने के लिए आपदा मोचन से पाँच लाख रुपये की धनराशि आबंटित।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights