khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारआध्यात्मिकउत्तरकाशीउत्तराखंडदिन की कहानीविशेष कवरस्टोरी

इस धाम में देवभूमि की भव्यता और दिव्यता के कायल दिखे विदेशी नागरिक, इटली और ऑस्ट्रेलिया से गंगा दर्शन को पहुंचे विदेशियों ने सराहा यात्रा प्रबंधन।

गंगोत्री में देवभूमि की भव्यता और दिव्यता के कायल दिखे विदेशी नागरिक।

रिपोर्ट:-सुभाष बडोनी उत्तरकाशी।

Advertisement

इटली और ऑस्ट्रेलिया से गंगा दर्शन को पहुंचे विदेशियों ने सराहा यात्रा प्रबंधन
-ऋषिकेश से गंगोत्री तक सुरक्षित सड़क और बेहतर सुविधाओं की तारीफ
-नेपाल और गुजरात से पहुंचे यात्री भी गंगा के दर्शन से दिखे गदगद

उत्तरकाशी। देवभूमि की दिव्यता और भव्यता हमें बार बार खींच लाती है। यहां पहुंचकर जी सुकून और शांति मिलती है, उसको बयां नहीं कर सकते हैं। ऋषिकेश से गंगोत्री तक 14 साल के भीतर जो सड़क और यात्रा सुविधाएं बढ़ी हैं, वह बेहतर हैं। हम गंगा के दर्शन को बारबार आना चाहते हैं।

Advertisement

चारधाम यात्रा पर गंगोत्री धाम पहुंचे इटली, आस्ट्रेलिया और भारत के मित्र देश नेपाल से पहुंचे श्रद्धालुओं ने देवभूमि उत्तराखंड की दिव्यता और भव्यता को लेकर उक्त बातें कही हैं।

इटली के एंड्रिया ने कहा कि वह 14 साल में तीसरी बार गंगोत्री धाम पहुंचे हैं।

Advertisement

यहां जो सुकून शांति मिलती है, वह बार बार यहां आने को विवश करती है।

14 सालों में ऋषिकेश से लेकर गंगोत्री धाम तक सड़क और चारधाम से जुड़ी सुविधाओं में बेहतर सुधार हुआ है।
वहीँ उन्होंने कहा कि गंगोत्री में गंगा के दिव्य दर्शन के साथ योग और योगियों के सानिध्य भी मिलता है।

Advertisement

यहां इंफ्रास्ट्रक्चर में बड़ी इजाफा हुआ है, इसी तरह आस्ट्रेलिया से आई एंडरेशा भी गंगोत्री धाम की दिव्यता की कायल दिखी।

वहीं उन्होंने कहा कि गंगा की सुंदरता और दिव्यता का अहसास मन को शांति और सुकून देता है। उन्होंने कहा कि वह देवभूमि के दर्शन को हर बार आना चाहती है।
उन्होंने चारधाम यात्रा व्यवस्थाओं की तारीफ की। कहा कि कठिन हालातों में भी धाम तक सुरक्षित सड़क एवं सुविधाएं जुटना समर्पण का काम है।

Advertisement

कुछ ऐसा ही पड़ोसी देश नेपाल और गुजरात से पहुंची महिला श्रद्धालुओं ने भी देवभूमि की खूबसूरती की तारीफ की।
वहीं उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान स्थानीय प्रशासन ने उनकी जो मदद की है, वह काबिलेतारीफ है। उन्होंने कहा कि गंगा दर्शन कर वह पुण्य के भागी बने हैं।
यहां से गंगा जल का प्रसाद ले जाकर वह अपने देश और परिजनों को बांटेंगे। उन्होंने यहां आने और दर्शन करने तक की व्यवस्था की जमकर तारीफ की है।

बहरहाल, देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी चारधाम यात्रा पर पहुंच रहे तीर्थयात्रियों द्वारा न केवल देवभूमि की दिव्यता बल्कि चारधाम यात्रा व्यवस्थाओं की भी खुले मन से तारीफ की जा रही है।

Advertisement

गंगोत्री यात्रा पर आए इन विदेशी श्रद्धालुओं के अलावा अन्य भी देवभूमि की दिव्यता के कायल दिख रहे हैं।

Advertisement

Related posts

दो युवा आईटी पेशेवरों की इस दर्दनाक हादसे में मौत , तेज रफ्तार पोर्श बनी हादसे का कारण, हादसे को अंजाम देने वाले व्यक्ति को मिलने वाली सजा बनी चर्चा विषय। उप मुख्यमन्त्री ने कही ये बात।

khabaruttrakhand

उपराष्ट्रपति एक दिवसीय दौरे में पहुँचे देवभूमि । बाबा नीम करौली महाराज के किये दर्शन।

khabaruttrakhand

दुखद: यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर ड्युटी पर तैनात पुलिस के जवान की दर्दनाक मौत।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights