khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडदिन की कहानीनैनीतालराजनीतिकराष्ट्रीय

ब्रेकिंग:-प्रधानमंत्री का देश को आत्मनिर्भर राष्ट्र बनाना है जिसके लिए संस्कार, शिक्षा, ओर लक्ष्य की जरूरत होती है। भगत सिंह कोश्यारी।

स्थान नैनीताल

प्रधानमंत्री का देश को आत्मनिर्भर राष्ट्र बनाना है जिसके लिए संस्कार, शिक्षा, ओर लक्ष्य की जरूरत होती है। भगत सिंह कोश्यारी।

Advertisement

रिपोर्ट ललित जोशी।

नैनीताल। सरोवर नगरी नैनीताल में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के पहुँचने पर भाजपा के कार्यकर्ताओं ने फूल मालाओं व छोलिया नृत्यदल द्वारा स्वागत किया गया। इस दौरान जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन ने आगवानी की।

Advertisement

इस मौके पर महाराष्ट्र के राज्यपाल व प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी ने कहा उत्तराखंड में लघु उद्योग शुरू करने को लेकर महाराष्ट्र के कई उद्यमियों से उनकी वार्ता चल रही है।
जल्द ही प्रदेश के मुख्यमंत्री से वार्ता कर इन प्रयासों को धरातल पर उतारने का कार्य करेंगे।
उन्होंने कहां की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कि उत्तराखंड पर खास लगाव है। उन्होंने कहा पहाड़ के युवा पलायन की रोकथाम को लेकर अपना स्टार्टअप शुरू कर प्रधानमंत्री की इस मुहिम को आगे बढ़ाने को कहा।

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी नैनीताल राजभवन पहुंचे।
जहां पर पुलिस ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया। उसके उपरांत बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने पुष्पगुच्छ देकर भव्य स्वागत किया।
श्री कोश्यारी ने पत्रकार वार्ता करते हुए कि यह उत्तराखंड की जनता का प्रेम और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उन पर विश्वास है की प्रदेश में संचालित की जा रही कई विकास परक योजनाओं को वह महाराष्ट्र में धरातल पर उतारने का कार्य कर रहे हैं।
दोनों प्रदेशों के बीच सामंजस्य बनाते हुए दोनों प्रदेशों को जोड़ने की बात कही है ।
कहा कि बीते दिनों महाराष्ट्र के कुछ उद्यमियों ने उनसे संपर्क किया है, जो कि उत्तराखंड में बागवानी, कृषि एव अन्य क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं। साथ ही करीब 200 उद्यमियों ने उनसे उत्तराखंड में लघु उद्योग शुरू करने की मनसा जाहिर की है ।

Advertisement

कहा जल्द ही इस संबंध में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री से वार्ता कर उद्यमी योजना को धरातल पर उतारा जाएगा।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री उत्तराखंड को विशेष महत्व देते हैं। केदारनाथ पुनर्निर्माण के साथ ही बद्रीनाथ धाम का सुंदरीकरण कार्य किया जा रहा है। उन्हें उम्मीद है कि जल्द कुमाऊ के जागेश्वर, बागनाथ समेत अन्य स्थल भी धार्मिक पर्यटन से जुड़ सकेंगे। साथ ही अगले पांच वर्षों में टनकपुर से बागेश्वर तक रेल मार्ग की सुविधा स्थापित कर ली जाएगी।

इसके उपरांत राज्यपाल महाराष्ट्र भगत सिंह कोश्यारी बतौर मुख्य अतिथि के रूप में कुमांऊ विश्वविद्यालय नैनीताल मे एक दिवसीय उत्तराखण्ड राज्य मे राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 लागू होने के उपलक्ष्य मे आयोजित कार्यक्रम मे पहुचे ।

Advertisement

जहां पर राज्यपाल महाराष्ट्र भगत सिंह कोश्यारी,कुलपति प्रोफेसर एनके जोशी , क्षेत्रीय विधायक सरिता आर्य, भीमताल के विधायक राम सिंह कैड़ा ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित करते हुए कार्यक्रम का शुभारंभ किया।
कुलपति ने पुष्पगुच्छ देकर राज्यपाल
का स्वागत करते हुए विश्वविद्यालय की उपलब्धियों की विस्तार रूप से जानकारी दी।

राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं को स्टार्टअप से जोड़ने की पहल शुरू की है। उनका प्रयास है कि वह उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्र से पलायन की रोकथाम को लेकर कार्य करें।
जिसको लेकर उन्होंने युवाओं से स्टार्टअप शुरू करने की अपील की।
राज्यपाल ने कहा की प्रधानमंत्री का देश को आत्मनिर्भर राष्ट्र बनाना है जिसके लिए संस्कार, शिक्षा, ओर लक्ष्य की जरूरत होती है।
जिसके लिए नयी शिक्षा नीति लागू की गई है। उन्होंने ने कहा कि विश्वविद्यालय एक अच्छा काम कर रहा है और आगे भी अच्छा काम करेगा जिससे कि विश्वा विद्यालय का नाम रोशन होगा।

Advertisement

इस दौरान डीएम धीराज गर्ब्याल, एसएसपी पंकज भट्ट, कुलसचिव दिनेश चंद्र, समेत भाजपा के कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-प्रताप नगर प्रखंड के पट्टी रोनद रमोली के ग्राम पंचायत बागी के भैरव धाम में पांडव लीला एवं भैरव नृत्य कार्यक्रम का हवन यज्ञ के साथ समापन।

khabaruttrakhand

Electricity Bill: Uttarakhand में Electricity उपभोक्ताओं की जेब होगी ढीली, ऊर्जा निगम ने तैयार की नए electricity टैरिफ की दरें

khabaruttrakhand

Uttarakhand के मुख्यमंत्री Dhami ने Ayodhya में Ram Mandir के पास राज्य अतिथि गृह के लिए Yogi सरकार से मंजूरी ले ली है।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights