khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तरकाशीउत्तराखंडदिन की कहानीराजनीतिकराष्ट्रीय

ब्रेकिंग:-15 दिवसीय रवांई बसंतोत्सव विकास मेले बाजार की जातर का रविवार को रंगारंग कार्यक्रम के बीच आगाज

उत्तरकाशी जिले की नगर पंचायत पुरोला के खेल मैदान में आयोजित 15 दिवसीय रवांई बसंतोत्सव विकास मेले बाजार की जातर का रविवार को रंगारंग कार्यक्रम के बीच आगाज हो गया है।

मेले का विधिवत उद्घाटन क्षेत्र के इष्टदेव राजा रघुनाथ मटिया महासू ओडारु जखंडी की देव डोलियों की मौजूदगी में नगर पंचायत अध्यक्ष हरिमोहन नेगी ने रिबन काट कर व दीप प्रज्वलित कर मेले का उद्घाटन किया।

Advertisement

रंवाई बसन्तोत्सव विकास मेला व बाजार की जातर विगत पांच वर्षों से भव्यता से मनाया जाता रहा है, मेले को नगर पंचायत गठन के बाद पिछले पांच वर्षों से विस्तारित कर इसे भव्य बनाने के लिए नगर पंचायत ने रंवाई बसन्तोत्सव एवम विकास मेले के रूप में 15 दिवसीय मेले के रूप में मेले का शुभारंभ किया गया।

रंवाई घाटी के पुरोला नगर पंचायत स्थित खेल मैदान में पिछले वर्षों की तरह लगने वाले रंवाई बसन्तोत्सव एवम विकास मेले का आयोजन देव डोलियों की उपस्थिति में पारम्परिक बध्य्यंत्रो, पूजा अर्चना व वैदिक मंत्रोच्चार कर दीप प्रज्वलन के साथ किया गया।

Advertisement

मेले के उद्घाटन में जंहा शुभारंभ देव डोलियों की पूजा अर्चना कर क्षेत्र की शुखशांति व समृद्धि के लिए दर्शकों ने मन्नत मांगी वंही जौनसार बावर व प्रदेश के लोकगायक डॉ नंदलाल भारती, सुंदर प्रेमी तथा रंवाई के लोक ग़ायक अनिल-सुनील बेसारी, सुधीर किंकरवान, प्रकाश आदि स्थानीय कलाकारों के गीतों का दर्शकों ने खूब लुफ्त उठाया।

नगर पंचायत हरिमोहन नेगी ने मेले में आये सभी अतिथियों व दर्शकों का धनयवाद करते हुए कहा कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी रंवाई बसन्तोत्सव एवम विकास मेले का विधिवत उद्घाटन किया गया है मेले में स्थानीय उत्पादों, स्थानीय कलाकारों को विशेष महत्व देते हुए कला को निखारने का मौका मेले के मंच से मिलेगा वंही मेले में दूर दराज से आने वाले ग्रामीणों को एक ही स्थान पर घरेलू आवश्यकताओ की कई वस्तुएं उपलब्ध मिल सकेंगी तथा बच्चों व बड़ों को मनोरंजन के लिए विभिन्न प्रकार की चर्खियां, झूले, ड्रेगन आदि मौजूद हैं।
उन्होंने सभी दर्शकों व मेलार्थियों से शांतिपूर्ण मेले का आनंद लेने की अपील की।

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-हाईकोर्ट ने नैनी झील में कूड़ा करकट एकत्र होने लिया स्वतः संज्ञान , नगर पालिका के एसडीएम, ईओ,व कोतवाल को किया तलब।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-उत्तराखण्ड में बाहरी राज्यों से आकर कार्यरत और निवास कर रहे लोगों को अब मूल स्थान/थाने से लाना होगा चरित्र प्रमाण पत्र।

khabaruttrakhand

Uttarakhand: अब आठ विभागों की 41 सेवाएं अधिकार सेवा के दायरे में आती हैं, जानें कितनी समय सीमा निर्धारित की गई

srninfosoft@gmail.com

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights