khabaruttrakhand
अपराधआकस्मिक समाचारउत्तराखंडदिन की कहानीराजनीतिकराष्ट्रीयरुद्रप्रयागविशेष कवरस्वास्थ्य

ब्रेकिंग:-सूर्यकुण्ड जहां भगवान शिव के जटाओं में विराजमान होकर पृथ्वी में आई थी मां गंगा।

सूर्यकुण्ड जहां भगवान शिव के जटाओं में विराजमान होकर पृथ्वी में आई थी मां गंगा।

रिपोर्ट :- सुभाष बडोनी /उत्तरकाशी.

Advertisement

-जंहा कल रात्रि में गंगोत्री धाम में बर्फवारी देखने को मिली वंही विश्व प्रसिद्ध गंगोत्री धाम में स्थित सूर्यकुण्ड का अलग ही महत्व है।

गंगोत्री धाम में आये श्रद्धालु इस कुण्ड का दर्शन करते हैं इस कुण्ड के बारे में पोराणिक मान्यता है कि जब राजा भगीरथ के हजार साल तपस्या से खुश होकर भगवान ब्रह्मा जी ने अपने कमण्डल से मां गंगा को धरती पर भेजा था. तो उस समय मां गंगा का वेग बहुत तेज था जिसके कारण धरती में निवास करने वाले मानवों जीव जन्तुओं के अस्तित्व पर खतरा उत्पन्न हो गया था।

Advertisement

उनको बचाने के लिए भगवान शंकर ने मां गंगा को अपनी जटाओं में समा लिया था जिसके कारण मां गंगा शिव की जटाओं में कैद हो गयी थी फिर राजा भगीरथ ने भगवान शिव की तपस्या कर के मां गंगा को आजाद करने की विनती की थी।

तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान शंकर ने इस स्थान पर मां गंगा की एक धारा को यहां पर छोड़ा था साथ ही इस स्थान पर सूर्य की किरणों से अद्भुत इन्द्र धनुष की रचना स्पष्ट दिखाई देती है इस स्थान से ठीक नीचे गोरी कुण्ड भी स्थित है साथ ही यहां पर मां भागीरथी एवं केदार गंगा का मिलन भी होता है अगर आप गंगोत्री धाम की यात्रा पर जा रहे हैं तो इस स्थान का दर्शन अवश्य करें।

Advertisement

Related posts

हनुमान गढ़ी तक निकाली भव्य शोभायात्रा । हनुमान जन्मोत्सव पर खूब झूमे भक्त ।

khabaruttrakhand

उप जिलाधिकारी घनसाली के नेतृत्व में घनसाली- चमियाला ,विनय खाल मोटर मार्ग पर रात्रि के समय चलाया गया सघन चेकिंग अभियान।

khabaruttrakhand

सिलक्यारा ब्रेकिंग:- मुख्यमंत्री ने बचाव दल की पूरी टीम को दी बधाई, कहा-श्रमिकों और उनके परिजनों के चेहरे की खुशी ही मेरी ईगास-बगवाल।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights