khabaruttrakhand
अल्मोड़ाआकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदेहरादूनराजनीतिकराष्ट्रीयरुद्रप्रयागविशेष कवरस्टोरी

ब्रेकिंग:-अन्तर्राष्ट्रीय स्तनपान सप्ताह के अवसर पर एम्स ऋषिकेश में जनजागरूकता के विभिन्न कार्यक्रम आयोजित।

अन्तर्राष्ट्रीय स्तनपान सप्ताह के अवसर पर एम्स ऋषिकेश में जनजागरूकता के विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए।

साथ ही पोस्टर प्रदर्शनी और नुक्कड़ नाटक के माध्यम से महिलाओं को स्तनपान करवाने हेतु विभिन्न लाभप्रद जानकारियां दी गईं।

Advertisement

प्रत्येक वर्ष अगस्त के पहले सप्ताह में माताओं और शिशुओं के लिए स्तनपान के महत्व पर जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से विश्व स्तनपान दिवस मनाया जाता है।

इस अवसर पर एम्स ऋषिकेश के नियोनेटोलाॅजी विभाग तथा काॅलेज ऑफ नर्सिंग के संयुक्त तत्वाधान में ’स्तनपान की महत्ता और इसके लाभ’ के संबंध में विभिन्न जन-जागरूकता के कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

Advertisement

सप्ताहव्यापी कार्यक्रमों के अन्तिम दिन संस्थान के मिनी ऑडिटोरियम में विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत करते हुए कार्यक्रम की मुख्य अतिथि और संस्थान की कार्यकारी निदेशक प्रोफेसर डॉ. मीनू सिंह ने कहा कि नवजात बच्चे के लिए मां का दूध न केवल स्वास्थ्यवर्धक गुणों से भरपूर होता है अपितु मां के दूध में रोगों के लड़ने की भी भरपूर क्षमता होती है।

उन्होंने कहा कि नवजात शिशु के सम्पूर्ण शारीरिक विकास के लिए मां का दूध बहुत जरूरी है।

Advertisement

उन्होंने नवजात शिशु के लिए शुरुआती चार सप्ताह की देख-रेख को बहुत महत्वपूर्ण बताया। कहा कि नवजात शिशु की इस दौरान की गई पर्याप्त स्वास्थ्य देखभाल ही उसे शारीरिक दृष्टि से भविष्य के लिए तैयार करती है।

नियोनेटोलाॅजी विभाग की विभागाध्यक्ष प्रो. श्रीपर्णा बासु ने स्तनपान की महत्ता बताई और कहा कि मां की स्वस्थता और नवजात के सम्पूर्ण विकास के लिए स्तनपान बहुत जरूरी है। स्तनपान एवं मां के दूध के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए उन्होंने संस्थान में मिल्क बैंक और माताओं के लिए विश्राम कक्ष की आवश्यकता बताई। स्तनपान सप्ताह कार्यक्रम के विभिन्न अवसरों पर स्त्री रोग वार्ड में सीनियर नर्सिंग ऑफिसर बिन्दुजा बाॅस के नेतृत्व में स्तनपान की भ्रांतियां विषय पर नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया गया। जबकि एक अन्य कार्यक्रम के दौरान पीजी स्टूडेन्ट्स और नर्सिंग स्टूडेन्ट्स के मध्य नवजात शिशुओं की देखभाल विषय पर क्विज का आयोजन और पोस्टर प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। जिसमें अस्पताल के विभिन्न वर्गों के कार्मिकों ने प्रतिभाग किया।

Advertisement

इस अवसर पर नियोनेटोलाॅजी विभाग के असिस्टेन्ट प्रोफेसर डाॅ. सुमन चौरसिया ने बताया कि इस वर्ष विश्व स्तनपान दिवस ’आइए स्तनपान कराएं और कार्यस्थल स्तर पर इसे बढ़ावा दें ’ (लेट्स मेक ब्रेस्टफीडिंग एण्ड वर्क, वर्क) थीम पर आयोजित किया गया था। संस्थान में कार्यरत फीमेल फेकल्टी मेंबर, नर्सिंग स्टाफ और अन्य महिला कर्मचारियों के लिए संस्थान की ओर से स्तनपान को बढ़ावा देने हेतु मूवी का भी प्रसारण किया गया। कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि कार्यकारी निदेशक प्रोफेसर डॉ. मीनू सिंह और प्रभारी डीन एकेडेमिक प्रो. शैलेन्द्र हांडू ने संयुक्तरूप से विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। पोस्टर प्रतियोगिता में नीकू वार्ड की नर्सिंग ऑफिसर रेणू और रजनी तथा कार्डियोलाॅजी विभाग के डाॅ. अभिमन्यु को, पीजी क्विज में मनीदीपा और कमल जोशी, नर्सिंग क्विज में चन्द्र सैन और दिनेश शर्मा को तथा नुक्कड़ नाटक में प्रतिभाग करने वाले विभिन्न प्रतिभागियों को पुरस्कृत कर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के दौरान काॅलेज ऑफ नर्सिंग की प्रभारी प्रिंसिपल डाॅ. जेवियर वेलियर, नियोनेटोलाॅजी विभाग के डाॅ. पूनम सिंह, डाॅ. मयंक प्रियदर्शी, डाॅ. सुमन चौरसिया, नर्सिंग काॅलेज की एसो. प्रोफेसर रूपिन्द्र देओल, एनएस कैप्टन कल्पना मीणा, डीएनएस वन्दना, एएनएस शिनोय आशीष, एसएनओ सुमन कंवर, एनओ ईरा दयाल, सहित रेजिडेंट्स, नर्सिंग ऑफिसर्स मौजूद रहे।

Advertisement

Related posts

Uttarakhand UCC: समान नागरिक संहिता विधेयक पर Congress का रुख, कहा- अध्ययन को मिले पर्याप्त समय, ताकि ठीक से हो चर्चा

cradmin

विद्यार्थियों को पर्यटन और हॉस्पिटैलिटी के क्षेत्र में प्रशिक्षण के लिए समग्र शिक्षा उत्तराखण्ड और स्विस एजुकेशन ग्रुप के मध्य किया गया एम.ओ.यू।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-पारदर्शी व गुणवत्ता के साथ अधिकारी कार्य करें। धीराज गर्ब्याल ।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights