khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तरकाशीउत्तराखंडखेलटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदेहरादूनयू एस नगरराष्ट्रीयरुद्रप्रयागविशेष कवरस्वास्थ्यहरिद्वार

ब्रेकिंग:- सेवन प्लस वन (7+1) अभियान से होगा डेंगू पर कंट्रोल,जाने खास बाते।

सेवन प्लस वन (7+1) अभियान से होगा डेंगू पर कंट्रोल

सोशल आउटरीच सेल, एम्स एवं नगर निगम ऋषिकेश के संयुक्त तत्वावधान में नगर निगम सभागार में निगम आयुक्त राहुल गोयल की अध्यक्षता में डेंगू नियंत्रण एवं रोकथाम पर बैठक आयोजित की गई ।

Advertisement

आयोजित बैठक में एम्स के सोशल आउटरीच सेल के नोडल अधिकारी डॉ. संतोष कुमार ने बताया कि सेवन प्लस वन मॉडल के तहत ऋषिकेश नगर निगम के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों में डेंगू के नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु सघन अभियान चलाया जाएगा | इस मॉडल के तहत गत वर्ष जहां डेंगू का प्रभाव अत्यधिक रहा है, ऐसे क्षेत्रों में एक बहु उद्देश्यीय टीम का गठन किया जाएगा जिसमें आशा, ए.एन.एम., क्षेत्रीय पार्षद/जनप्रतिनिधि,समाजसेवी,नगर निगम ऋषिकेश एवं स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी रहेंगे ।

इस अभियान के प्रथम चरण में संवेदनशील जगह ( पिछले वर्ष के आंकड़ों के अनुसार) पर इस अभियान चलाया जाएगा, जिसमें गठित की गई टीम सात दिन तक अपने-अपने क्षेत्रों में रुके हुए पानी ( डेंगू के मच्छर के पनपने का सही स्थान ) को नष्ट करेंगे। उसके बाद हर हफ़्ते एक-एक घंटे अपने- अपने घरों में इस कार्यक्रम की पुनरावृत्ति कर डेंगू के प्रभाव को कम किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि इस मुहिम को शतप्रतिशत सफल बनाने के लिए हरेक वार्ड /बस्ती में निवास करने वाले लोगों की उपस्थिति अनिवार्य है।

Advertisement

जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. सुभाष जोशी ने बताया कि डेंगू मच्छर का लार्वा ही डेंगू फैलाने के लिए सबसे खतरनाक है। उन्होंने बताया कि फोगिंग व कीटनाशक दवाइयों से कई ज़्यादा प्रभावी है कि, हम अपने-अपने क्षेत्रों में पानी को नहीं रुकने दें। कूलर, गमले, टायर एवं पानी जमा होने वाली अन्य स्थानों पर जमा पानी का निस्तारण करें ।
इसके साथ ही नगर आयुक्त राहुल गोयल ने इस अभियान में प्रशासन एवं पुलिस से सहयोग की अपेक्षा की है ।

एसपीएस राजकीय चिकित्सालय, ऋषिकेश के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक पी.के.चंदोला ने कहा कि डेंगू बीमारी से बचाव मुहिम के तहत जब टीम के सदस्य विभिन्न चिह्नित क्षेत्रों में विजिट करे तो उक्त स्थानों पर निवास करने वाले लोग टीम के सदस्यों को अपना अपेक्षिक सहयोग प्रदान करें, जिससे डेंगू बीमारी पर पूर्ण नियंत्रण पाया जा सके। बताया गया कि गठित सेवन प्लस- वन मॉडल अभियान को एसपीएस राजकीय अस्पताल के एस.पी.यादव की अगुवाई में टीम नगर के सभी क्षेत्रों में चलाएगी।

Advertisement

एम्स सोशल आउटरीच सेल के नोडल अधिकारी डॉ. संतोष कुमार द्वारा डेंगू रोकथाम को लेकर बताए गए उपाय-

1- यदि कोई भी व्यक्ति बुखार से ग्रसित होता है तो वह घर में आराम करे एवं डेंगू की जांच अवश्य कराए।
2-दिन में मच्छरदानी का प्रयोग करें।
3-पूरे शरीर को ढक कर एवं फुल बाजू के कपडे़ पहनें।
4-स्कूलों में शिक्षक बच्चों पर ध्यान दें और स्कूल परिसर व उसके आसपास के क्षेत्र में जमा हुए पानी को नष्ट करें ।
5-यदि डेंगू बीमारी से ग्रसित होने पर आपके शरीर से रक्तस्राव नहीं हो रहा है, तो प्रारंभिक स्थिति में मरीज को प्लेटलेट्स की आवश्यकता नहीं है।

Advertisement

6-डेंगू बुखार के साथ शरीर में चखत्ते, रक्तस्राव का होना, पेट में दर्द और लगातार उल्टी आना आदि लक्षण खतरे के संकेत हैं।
7-डेंगू की विशेष जानकारी एवं जागरुकता के लिए सोशल आउटरीच सेल, एम्स ऋषिकेश से संपर्क कर सकते हैं।

Advertisement

Related posts

Uttarakhand Cabinet ने 20 लाख तक के कर्मचारी बीमा को मंजूरी दी, Rishikesh-Karnprayag रेल लाइन पर 11 स्टेशनों के पास निर्माण पर प्रतिबंध लगाया

khabaruttrakhand

चारधाम यात्रा:- इस दिन है गंगोत्री धाम के कपाट बंद होने का शुभ मुहूर्त।

khabaruttrakhand

अतिक्रमण:-वन भूमि, नदी तटों एवं राजमार्गाे पर हुए अतिक्रमण को हटाने हेतु अधिकारी नियमानुसार एवं समयबद्धता को ध्यान में रखते हुए पूरी प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद ही अतिक्रमण हटायें-जिलाधिकारी टिहरी।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights