khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदेहरादूननैनीतालराजनीतिकविशेष कवरस्टोरीस्वास्थ्यहरिद्वार

ब्रेकिंग:-बाराही जायका स्वायत सहकारिता अधिवेशन में वन सचिव चन्द्र शेखर जोशी ने दिये वन एवं पर्यावरण से सम्बंधित सुझाव।

बाराही जायका स्वायत सहकारिता अधिवेशन में वन सचिव चन्द्र शेखर जोशी ने दिये वन एवं पर्यावरण से सम्बंधित सुझाव।रिपोर्ट। ललित जोशी।

नैनीताल। सरोवर नगरी नैनीताल से दूर जनपद नैनीताल के ओखलकांडा भूमि संरक्षण वन प्रभाग रेन्ज के वन पंचायत पुटगाव मे मा बाराही जायका स्वायत्त सहकारिता का वार्षिक अधिवेशन कार्यक्रम का आयोजन सहकारिता अध्यक्ष श्रीमती कविता नगदली की अध्यक्षता मे किया गया।

Advertisement

इस बैठक में  सहकारिता बी ओ डी व जायका योजना मे गठित समूहों के सदस्य, पदाधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

इस मौके पर वन सचिव चन्द्र शेखर जोशी ने अधिवेशन में भाग लेकर वन एवं पर्यावरण से सम्बंधित सुझाव दिए, उन्होंने कहा कि वनों को लगाना हम सब का कर्तव्य है।

Advertisement

इस अवसर पर क्षेत्र पंचायत सदस्य श्रीमती शुशिला कुलोरा व सरपंच श्रीमती पोखरी सुमित्रा देवी सरपंच पुटगाव मुन्नी देवी ग्राम प्रधान रविशंकर वन विभाग से उप वन क्षेत्राधिकारी कैलाश चन्द्र पाण्डे, वन सचिव चन्द्र शेखर जोशी व अनिल कुमार जायका परियोजना से एम एस पंकज कुमार ओझा एफ एल सी अनिल फुलारा, नवल किशोर कोठारी, इन्द्र कुमार, हेम पाठक, सन्तोष कुमार व अखरोट एफ एल सी विरेन्द्र सती द्वारा प्रतिभाग किया गया।

इस बैठक मे बीओडी मे रिक्त हो गये सदस्यो का चुनाव किया गया जिसमे पोखरी से श्रीमती रेनू देवी व क्वैदल से श्रीमती किरन देवी को सदस्य पद पर चुना गया व क्रय समिती मे प्रेमा देवी व भगवती देवी लेखा समिति मे हेमा देवी व कमला देवी तथा मध्यस्थता समिती मे जीवन्ती देवी व हेमा देवी के पद पर चुना गया ।
तथा सभी चुने गये सदस्यो को एम एस श्री ओझा द्वारा सपथ दिलाई गयी व सहकारिता की 2022-23 की वार्षिक लेखा व वित्तीय लेन देन का सभी के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

Advertisement

इसमें 2023 – 24 किये जाने वाले कार्य कलापो की जानकारी दी गयी व वैल्यू चेन के अन्तगर्त कार्य करने पर सहमति वनी तथा बैठक का संचालन पंकज कुमार ओझा द्वारा किया गया ।

Advertisement

Related posts

PM Modi की ‘परीक्षा पे चर्चा’: Chhattisgarh के स्टूडेंट्स ने पूछे सवाल, जानें प्रधानमंत्री के दिए गए जवाब

srninfosoft@gmail.com

बिग ब्रेकिंग्:- ऊर्जा निगम के अकाउंटेंट को घूसखोरी में 4 साल की सजा। बिजली बिल से जुड़ा है मामला।

khabaruttrakhand

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights