khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीप्रभावशाली व्यतिराजनीतिकविशेष कवरस्टोरी

पं. दीनदयाल उपाध्याय मिनी सचिवालय के सभागार साबली तल्ली में तथा रा.उ.प्रा. विद्यालय साबली में किशोरियों एवं महिलाओं को सैनिटरी नैपकिन वितरित करते हुए उसके  फायदे, उपयोग करने और उपयोग करने बाद डिस्पोज करने के तरीके, माहवारी के दौरान होने वाली शारीरिक परिवर्तन एवं परेशानियां, साफ-सफाई आदि के बारे में विस्तार से दी गयी जानकारी।

गुरूवार को श्रीमती प्रज्ञा दीक्षित (पत्नी जिलाधिकारी मयूर दीक्षित) द्वारा पं. दीनदयाल उपाध्याय मिनी सचिवालय के सभागार साबली तल्ली में तथा रा.उ.प्रा. विद्यालय साबली में किशोरियों एवं महिलाओं को सैनिटरी नैपकिन वितरित करते हुए उसके  फायदे, उपयोग करने और उपयोग करने बाद डिस्पोज करने के तरीके, माहवारी के दौरान होने वाली शारीरिक परिवर्तन एवं परेशानियां, साफ-सफाई आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

वहीँ इस अवसर पर उन्होंने किशोरियों से कहा कि पीरियड्स एक प्राकृतिक प्रक्रिया है, इसको लेकर शर्मायें नहीं, बल्कि गर्व से कहें कि हम नारी हैं।

Advertisement

 

Advertisement

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि पीरियड्स के दौरान साफ-सफाई बहुत जरूरी है, इसलिए एक दिन में चार बार अथवा फ्लों के अनुसार सैनिटरी पैड चेंज करते रहें।

अपने आहार में आयरन और विटामीन-सी वाली चीजे शामिल करें, हिमोग्लोबिन की नियमित जांच करवायें तथा अपने पोषण आहार को लेकर सजग रहें।

Advertisement

उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि साबली में कोई भी बच्चा कुपोषित नहीं है।

महिलाओं को बच्चों और परिवार के साथ-साथ स्वयं का भी ध्यान रखना बहुत जरूरी है।

Advertisement

इस दौरान महिलाएं और किशोरियों श्रीमती दीक्षित को अपने बीच पाकर काफी उत्साहित नजर आई तथा अपने पीरियड्स के दौरान होने वाली समस्याओं से अवगत कराते हुए जानकारी हांसिल की गई।

श्रीमती दीक्षित ने कहा कि माहवारी में सैनिटरी नैपकिन का उपयोग सर्वोत्तम विकल्प है, इससे इंफेक्शन, ब्रेस्ट केंसर, बच्चेदानी केंसर आदि अन्य कई बीमारियों के खतरे से बचा जा सकता है।

Advertisement
  • वहीं उन्होंने सैनिटरी नैपकिन के उपयोग के बाद उसको डिस्पोज करने का तरीका बताते हुए माहवारी का वेस्ट, गीला और सूखा कूड़े से अलग कूड़ेदान में रखने को कहा।
  • श्रीमती प्रज्ञा दीक्षित द्वारा रा.उ.प्रा. विद्यालय साबली में स्कूली छात्र-छात्राओं के साथ बैठकर मिड डे मील खाकर भोजन की जांच की भी गई।

इस मौके पर सीडीपीओ ममता लेखक, सुपरवाइजर भागीरथी पंवार, आंगनवाड़ी कार्यकत्री प्रकाशी बहुगुणा, आशा कार्यकत्री प्रकाशी देवी, सहायिका गुड्डी देवी, अध्यापक अखिलेश उनियाल, भोजन माता विजय लक्ष्मी बहुगुणा सहित गांव की महिलाएं एवं किशोरियां मौजूद रही।

 

Advertisement

Related posts

वन तस्करों पर पुलिस ने कसा शिकंजा 25 लाख की 246 नग प्रतिबंधित कांजल की लकड़ी के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-मुनड़ा के छात्र प्रदीप का श्रीदेव सुमन छात्रवृत्ति योजना में चयन होने पर क्षेत्रीय विधायक समेत श्रेत्र के जनप्रतिनिधि ने दी बघाई।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-टिहरी पुलिस द्वारा प्रभावी कार्यवाही ,जाने अबतक का हाल।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights