khabaruttrakhand
अपराधआकस्मिक समाचारउत्तरकाशीउत्तराखंडदिन की कहानीराष्ट्रीयविशेष कवरस्टोरी

ब्रेकिंग्:-वन्य जीव तस्करी पर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, लैपर्ड की खाल तस्करी करते एक तस्कर गिरफ्तार।

वन्य जीव तस्करी पर उत्तरकाशी पुलिस की बड़ी कार्रवाई लैपर्ड की खाल तस्करी करते एक तस्कर गिरफ्तार, 2 खालें बरामद।

Advertisement

सुभाष बडोनी /उत्तरकाशी

पुलिस टीम को SP उत्तरकाशी द्वारा दिया गया 5 हज़ार का पुरस्कार।

Advertisement

*पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड, अभिनव कुमार* द्वारा उत्तराखण्ड पुलिस को राज्य में मानव सम्बन्धी अपराधों के साथ-साथ वन्य जीव व जीवों के अंगों की तस्करी को गम्भीरता से लेते हुये उसके नियंत्रण व प्रभावी रोकथाम के निर्देश दिये गये हैं।

इसी क्रम में उत्तरकाशी के *पुलिस कप्तान अर्पण यदुवंशी* द्वारा जनपद में वन्य जीव एवं जीवों के अंगों की तस्करी के प्रति संवेदनशीलता बरतते हुये तस्करों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं।

Advertisement

जिसके तहत जनपद में पुलिस व एसओजी की टीमें संदिग्ध तत्वों, तस्करों, माफियाओं को चिन्हित कर उन पर लगातार कार्यवाही कर रही है।

एसओजी उत्तरकाशी द्वारा गहन सुरागरसी पतारसी करते हुये एक सटीक जानकारी जुटायी गयी।

Advertisement

जिस पर पुलिस उपाधीक्षक उत्तरकाशी/ऑपरेशन प्रशान्त कुमार* द्वारा एसओजी प्रभारी प्रकाश राणा, थानाध्यक्ष पुरोला मोहन कठैत एवं वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल व्यूरो दिल्ली (WCCB) की एक संयुक्त टीम गठित की गयी।

टीम द्वारा कल 16.02.2024 की देर रात्रि को जाल बुनते हुये थाना पुरोला क्षेत्र से देहरादून- नौगांव राष्ट्रीय राजमार्ग पर जरड़ाखड्ड के पास से वरुण उर्फ लक्की नामक तस्कर को लैपर्ड की खाल की तस्करी करते हुये गिरफ्तार किया गया, जिसके कब्जे से 02 खालें बरामद हुयी हैं।

Advertisement

पुलिस द्वारा वन्य जीव की खाल की तस्दीक हेतु वन विभाग की टीम को मौके पर बुलाया गया।

गिरफ्तारी व बरामदगी के आधार पर अभियुक्त वरुण के विरुद्ध थाना पुरोला पर *वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की धारा 9/51* के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया,मामले में अग्रिम विधिक कार्यवाही जारी है।

Advertisement

अभियुक्त के आपराधिक इतिहास की जानकारी जुटाई जा रही है।

अभियुक्त को  मा0 न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

Advertisement

अभियुक्त उक्त खालों को रिखनाड़ लाखामण्डल के जंगलों से लाकर तराई के एरिया में उच्च दामों पर बेचने के लिये ले जा रहा था, जिसको एसओजी व पुलिस की टीम ने देर रात्रि को दबोच लिया।

पुलिस कार्यालय उत्तरकाशी में आयोजित पत्रकार वार्ता में *सी0ओ0 प्रशान्त कुमार* द्वारा बताया गया कि हमारी एसओजी की टीम पिछले कई दिनों से इसकी निगरानी कर रही थी।

Advertisement

जिसमें कल रात को टीम को तस्कर वरुण (लक्की ) को पकडने में कामयाबी हाथ लगी है, लैपर्ड/गुलदार वन्य जीव की दुर्लब होने वाली प्रजातियों मे एक है, वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की अनुसूची 1 मे इसे उच्चतम स्तर की सुरक्षा प्राप्त वन्य जीव प्रजातियों में रखा गया है।

*गिरफ्तार अभियुक्त-* वरुण उर्फ लक्की पुत्र बलराम निवासी नाड़ा लाखामण्डल देहरादून, उम्र- 29 वर्ष।

Advertisement

*बरामद माल-* 2 खाल (लेपर्ड की)
*पुलिस टीम-*
1- उ0नि0 प्रकाश राणा प्रभारी एसओजी
2- उ0नि0 राजेश कुमार- चौकी प्रभारी नौगाँव
3- हे0कानि0 अब्बल सिंह- थाना पुरोला
4- हे0कानि0 प्रवीन परमार-थाना पुरोला
5- हे0कानि0 सूरज सिंह – एसओजी
6- कानि0 दीपक नेगी – एसओजी
7- WCCB की टीम

*वन विभाग की टीम-*
1- वनक्षेत्राधिकारी शेखर सिंह राणा
2- वन दरोगा जयवीर राणा
3- वन दरोगा जयदेव

Advertisement

*पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी द्वारा गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली पुलिस टीम की सराहना करते हुये टीम के उत्सावर्धन हेतु 5000 रु0 का पुरस्कार देने की घोषणा की गयी।*

बाइट प्रशान्त कुमार डीएसपी उत्तरकाशी।

Advertisement

Related posts

के डी एम रोड में दीन गाँव के पास एको कार हुई थी दुर्घटना की शिकार ,उठी मजिस्ट्रेट जांच की मांग,घटिया निर्माण सामग्री का आरोप।

khabaruttrakhand

किस्से कैसे कैसे: 28 साल जेल में रहे व्यक्ति को अब मिला करोड़ो का मुआवजा। जाने मामले की जानकारी।#ViralStoryUSA.

khabaruttrakhand

Dehradun: श्रमिकों की संघर्षशीलता और धैर्य ने सफल बनाया सुरंग में रेस्क्यू अभियान, CM Dhami ने जताया आभार।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights