khabaruttrakhand
उत्तराखंडराजनीतिक

Election 2024: इस शहर में जंगली जानवरों के नाम पर लड़ा जाएगा चुनाव, ग्रामीणों ने बनाया यह मुद्दा; जानें कारण

Election 2024: इस शहर में जंगली जानवरों के नाम पर लड़ा जाएगा चुनाव, ग्रामीणों ने बनाया यह मुद्दा; जानें कारण

Election 2024: अलग Uttarakhand राज्य के गठन के बाद तेजी से विकसित हुए गौलापार क्षेत्र के ग्रामीण जंगली जानवरों और निराश्रित गोवंश से खासे परेशान हैं। जंगली जानवर और लावारिस मवेशी हर साल फसलों को चौपट कर जाते हैं। बावजूद अब तक चुने हुए जनप्रतिनिधियों ने इस समस्या के समाधान के लिए कोई ठोस पहल नहीं की है। इससे ग्रामीण न केवल गुस्से में हैं बल्कि उन्होंने चुनाव में इसे मुद्दा बनाने की भी ठान ली है।

देवभूमि जनसेवा संस्था के अध्यक्ष और सामाजिक कार्यकर्ता प्रकाश बिष्ट का कहना है कि पूरे गांव में निराश्रित गोवंश का आतंक बना हुआ है। आठ से दस गोवंश एक साथ आते हैं और फसलों को नष्ट कर जाते हैं। खेत में बची खुची फसल मवेशियों के पैरों तले दबने से दोबारा नहीं पनप पाती है। बिष्ट बताते हैं कि उन्होंने स्थानीय स्तर से लेकर पीएम पोर्टल तक में शिकायत की। इसके बाद वर्ष 2020 में वन विभाग ने धारा किशनपुर से जीतपुर तक सोलर फेंसिंग की लेकिन यह भी चंद रोज बाद खराब हो गई।

Advertisement

सामाजिक कार्यकर्ता अर्जुन बिष्ट का कहना है कि क्षेत्र में दिन में निराश्रित गोवंश फसलों को नुकसान पहुंचाते हैं और रात में जंगली जानवर। वह कहते हैं कि कई बार निराश्रित गौवंश के कारण क्षेत्र में बड़े हादसे भी हो चुके हैं। बिष्ट कहते हैं कि गोशाला निर्माण के साथ साथ मोबाइल वैन भी हो, जो घायल गोवंश का मौके पर पहुंचकर इलाज कर सके।

ग्रामीण जीवन भट्ट का कहना है कि धाराकिशनपुर, गंगापुर, जीतपुर, प्रतापपुर, तारानवाड़, गजेपुर, विजयपुर ऐसे गांव हैं जो जंगल से लगे हुए हैं और इन्हीं गांवों में सबसे ज्यादा जंगली जानवरों का आतंक है। ग्रामीणों का कहना है कि बार-बार मांग के बाद भी उनकी समस्याएं हल नहीं हुई हैं। लिहाजा वह इस चुनाव में जंगली जानवरों के आतंक और निराश्रित गोवंश से होने वाली दिक्कतों को मुद्दा बनाएंगे।

Advertisement

Related posts

“बढ़ते अपराध के खिलाफ Congress का Rishikesh में प्रदर्शन, BJP सरकार का पुतला जलाया”

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:- घनसाली क्षेत्र में तीन बच्चों सहित सड़क पर निराश्रित घूम रही महिला को उपजिलाधिकारी की मदद से मिला आशियाना। जाने पूरा मामला।

khabaruttrakhand

जनपद के समस्त सरकारी/अर्द्ध सरकारी कार्यालयों/पीएसयू में मतदाता जागरूकता मंत्रो (वीएएफ) की बैठक ।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights