khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तरकाशीउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदेहरादूननैनीतालराजनीतिकराष्ट्रीयविशेष कवरस्टोरीस्वास्थ्य

ब्रेकिंग:- कैबिनेट मंत्री ने मंत्री रावत द्वारा चिकित्सा एवं शिक्षा विभाग की ली गयी समीक्षा बैठक।

नई टिहरी :-

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा, सहकारिता, उच्च शिक्षा, विद्यालय शिक्षा एवं संस्कृत शिक्षा मंत्री श्री धन सिंह रावत द्वारा शुक्रवार को चिकित्सा एवं शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक ली गई।

Advertisement

जिला सभागार नई टिहरी में आयोजित बैठक में  मंत्री जी ने निर्देश दिए कि आउटसोर्स के माध्यम से तैनात कार्मिकों के नवीनीकरण की प्रक्रिया तीन साल तक विभागाध्यक्ष स्वयं करें।

सभी ग्राम सभाओं में रोस्टर वाइस स्वास्थ्य मेले लगाकर प्रत्येक व्यक्ति का आयुष्मान कार्ड व डिजिटल आईडी बनाने, हर व्यक्ति की रेण्डम चैकिंग तथा सभी प्रकार की जांचे की जाएं।

Advertisement

मंत्री जी द्वारा चिकित्सा विभाग की बैठक के दौरान जनपद में आशा, एएनएम, सीएचओ, वार्ड ब्याय, नर्स, लैब टैक्निशियन, फर्मसिस्ट, एम्बुलेंस वाहन, वाहन चालक, स्वास्थ्य उपकरण, दवा आदि की जानकारी लेते हुए एएनएम और लैब टैक्निशियन की भर्ती हेतु जल्द विज्ञप्ति जारी कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए।

साथ ही कहा कि जनपद को 8 डॉक्टर जल्द ही उपलब्ध करा दिये जायेंगे और  जल्द ही नर्सों की भर्ती की जायेगी।

Advertisement

उन्होंने कहा कि हर ब्लॉक में डॉक्टरों के लिए आवासीय भवन हो, एम्बुलेंस का रिस्पॉन्स टाइम 20 मिनट से अधिक न हो, ‘‘खुशियों की सवारी‘‘ वाहन हर ब्लॉक में हो।

इसके साथ ही 10 साल से अधिक एवं खराब खड़े वाहनों को नीलाम करने, मोतियाबिन्द ऑपरेशन हेतु लक्ष्य तय कर आवश्यक कार्यवाही करने, जच्चा बच्चा की सुरक्षा के दृष्टिगत संस्थागत प्रसव कराने के निर्देश दिए गए।

Advertisement

उन्होंने यह भी बताया कि राज्य सरकार द्वारा जिस गांव में सड़क नही है, वहां डंडी-कंडी/पालकी वालों को 15 सौ रूपये दिये जा रहे है, 270 जांचे निःशुल्क की जा रही है।

शिक्षा विभाग की बैठक के दौरान मा. मंत्री जी ने कहा कि स्थानीय स्तर पर अध्यापकों की व्यवस्था करने हेतु प्रधानाचार्य को भी शक्तियां दी जा रही हैं।

Advertisement

उन्होंने कहा कि जनपद के डिग्री कॉलेजो के छात्र-छात्राओं द्वारा उच्च स्तरीय परीक्षा पास करने पर महाविद्यालय को सम्मानित किया जाएगा।

कक्षा 06 से 12 तक के बच्चों की 70 प्रतिशत से अधिक अंक आने पर छात्रवृति दिए जाने की बात कही गई तथा इस हेतु अभी से तैयारी करने के निर्देश दिये गये।

Advertisement

मा. मंत्री जी ने कम छात्र संख्या वाले स्कूलों को बन्द कर अभिभावकों की सहमति से छात्र- छात्राओं को 22 रूपये प्रति किमी. की दर से (एक तरफा) किराया देने, प्रत्येक स्कूल में कम्प्यूटर, पानी, बिजली, फर्नीचर, शौचालय, रसोईघर प्राथमिकता पर देने तथा जिन स्कूलों द्वारा कोई खर्च नहीं किया गया, उनकी बैठक कराने के निर्देश दिए गए।

वही मंत्री धन सिंह रावत द्वारा दिए गए निर्देशों का अनुपालन करने हेतु संबंधित अधिकारियों को कम्पाईल रिर्पोट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए।

Advertisement

बैठक में अध्यक्ष जिला पंचायत सोना सजवाण, अध्यक्ष डीसीबी सुभाष रमोला, सीडीओ मनीष कुमार, सीएमओ मनु जैन, सीईओ एस.पी. सेमवाल, सीएमएस अमित राय, एसीएमओ एल.डी. सेमवाल, डीईओ बेसिक वी.के. ढौंडियाल सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Advertisement

Related posts

Shocking ! पाक में महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों में 200 फीसदी की वृद्धि

cradmin

गुलाबी शरारा: Uttarakhand का एक हिट विश्व स्तर पर वायरल हो गया, YouTube पर पांच करोड़ से अधिक बार देखा

khabaruttrakhand

Uttarakhand: राज्यपाल के अभिभाषण के साथ विधानसभा का बजट सत्र आज से शुरू, एक मार्च तक चलेगा

cradmin

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights