khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तरकाशीउत्तराखंडखेलटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदेहरादूनराजनीतिकराष्ट्रीयरुद्रप्रयागविशेष कवरस्टोरी

ब्रेकिंग:-राजकीय प्रताप इण्टर कॉलेज एवं राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज का जिलाधिकारी ने किया  औचक स्थलीय निरीक्षण ।

बौराड़ी, नई टिहरी :-

नई टिहरी बौराड़ी में स्थित राजकीय प्रताप इण्टर कॉलेज एवं राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज का जिलाधिकारी ने किया  औचक स्थलीय निरीक्षण ।

Advertisement

इस दौरान दोनो कॉलेज में कक्षा कक्षों, प्रयोगशाला, मध्याह्न भोजन कक्ष आदि का निरीक्षण कर समस्त व्यवस्थाओं का जायजा लिया गया।

इसके साथ ही विद्यालय परिसरों में साफ सफाई रखने के निर्देश दिए गए।

Advertisement

राजकीय प्रताप इण्टर कॉलेज के निरीक्षण के दौरान विभिन्न कक्षा कक्षों में अध्यापकों और बच्चों से शिक्षा के परिणाम पर चर्चा की गई।

अध्यापकों को बच्चों की उपस्थिति और पढ़ाई पर विशेष ध्यान देने तथा बोर्ड परीक्षा परिणाम के शतप्रतिशत हेतु और बेहतर करने के निर्देश दिये गये।

Advertisement

कॉलेज में बच्चों की कम उपस्थिति पर प्रधानाचार्य को उपस्थिति को लेकर प्रतिदिन निगरानी करने तथा रिर्पोट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये।

अध्यापकों को किसी भी बच्चे के अनुपस्थित रहने पर अभिभावकों से फोन पर बात कर अनुपस्थित रहने का कारण प्रतिदिन डायरी में नोट करने तथा हर विषय के सैम्पल पेपर तैयार करने के निर्देश दिये गये।

Advertisement

इसके साथ ही प्रयोगशाला में प्रयोग एवं उपकरण की जानकारी एवं मध्याह्न भोजन व्यवस्था का जायजा लिया गया है।

राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज में विभिन्न कक्षा कक्षों के निरीक्षण के दौरान बच्चों की शतप्रतिशत उपस्थिति दर्ज करवाने, उपस्थिति को लेकर प्रतिदिन निगरानी करने तथा रिर्पोट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये।

Advertisement

इसके साथ ही मिड डे मील व्यवस्था का बारीकी से जायजा लेते हुए प्रधानाचार्य को भोजन की मात्रा बढ़ाने के निर्देश दिये गये।

अभिभावकों से भी प्रतिदिन अपने बच्चों को स्कूल भेजने की अपील की गई।

Advertisement

इस दौरान डीईओ बेसिक वी.के. ढौंडियाल, प्रधानाचार्य पीआईसी अवतार सिंह राणा, प्रभारी प्रधानाचार्य श्वेता भदरी सहित अध्यापकगण मौजूद रहे।

Advertisement

Related posts

Lok Sabha Election 2024: डूबकर भी प्यासा ही रह गया टिहरी…जानिए कैसा रहा है 72 साल का चुनावी इतिहास

srninfosoft@gmail.com

ब्रेकिंग:-हाईकोर्ट ने नैनी झील में कूड़ा करकट एकत्र होने लिया स्वतः संज्ञान , नगर पालिका के एसडीएम, ईओ,व कोतवाल को किया तलब।

khabaruttrakhand

एम्स, ऋषिकेश की नियमित ड्रोन सेवा उत्तराखंड के सुदूरवर्ती क्षेत्रों में रहने वाले गंभीर मरीजों के उपचार में साबित हो रही मददगार ।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights