khabaruttrakhand
उत्तरकाशी

Guru Nanak Jayanti 2023: राज्यपाल Gurmeet ने गुरु पर्व पर Gurudwara Sahib में टेका मत्था, मजदूरों के सकुशल निकलने की कामना

Guru Nanak Jayanti 2023: राज्यपाल Gurmeet ने गुरु पर्व पर Gurudwara Sahib में टेका मत्था, मजदूरों के सकुशल निकलने की कामना

Dehradun : Guru Nanak Jayanti 2023, गुरु पर्व के अवसर पर Uttarakhand के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल Gurmeet Singh (सेवानिवृत्त) सोमवार को नानकसर सतसंग सभा Gurdwara Sahib, Raipur रोड, Dehradun पहुंचे और कीर्तन कार्यक्रम में भाग लिया।

Guru Nanak Dev Ji के प्रकाश पर्व के अवसर पर राज्यपाल ने देश और राज्य के लोगों की सुख, समृद्धि और समृद्धि की कामना की। उन्होंने कहा कि Guru Nanak Dev के ज्ञान का प्रकाश अभी भी पूरी मानवता को रोशन कर रहा है।

Advertisement

सबसे बड़ा संदेश इसके मूल मंत्र में दिया गया है

Guru Nanak Dev Ji ने मानवता, वैश्विक भाईचारे, एकता और सेवा का संदेश दिया जो आज भी प्रासंगिक है। राज्यपाल ने कहा कि Guru Nanak Dev द्वारा अपने मूल मंत्र ‘हर कोई अच्छा है, और सब कुछ आपका है’ में दिया गया संदेश सबसे बड़ा संदेश है।

सुरंग में फंसे श्रमिकों के सुरक्षित मार्ग के लिए प्रार्थना

इस अवसर पर राज्यपाल ने Uttarkashi की Silkyara सुरंग में फंसे श्रमिकों के जल्द से जल्द सुरक्षित बाहर निकलने की भी प्रार्थना की।

Advertisement

राज्यपाल ने कहा कि श्रमिकों को सुरक्षित निकालने के लिए सभी एजेंसियों द्वारा बहुत ही सुनियोजित तरीके से निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। एजेंसियां भी कई विकल्पों पर प्रयास कर रही हैं।

श्रमिकों को सुरक्षित निकालने को प्राथमिकता

Uttarakhand के राज्यपाल ने कहा कि इस समय सर्वोच्च प्राथमिकता सभी श्रमिकों को सुरक्षित निकालना है। राज्यपाल ने कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि सभी श्रमिक जल्द ही कुशलता से बाहर निकल जाएंगे। इस अवसर पर राज्यपाल की पत्नी श्रीमती Gurmeet Kaur, Gurdwara प्रबंधन समिति के सदस्य और कई श्रद्धालु उपस्थित थे।

Advertisement

Related posts

मोबाइल टावरों की स्थापना व संचालन में उदासीनता बरते जाने पर टिहरी सांसद ने व्यक्त की अप्रसन्नता, दूरस्थ क्षेत्रों में टावरों की स्थापना के कार्य को तेजी से करने के दिए निर्देश।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:- (मनरेगा) योजना के तहत 41% जॉब कार्ड धारक अभी भी आधार आधारित मजदूरी भुगतान के नही है तैयार, अब सरकार ने बढ़ाई इसकी समय सीमा। जाने नई समय सीमा।

khabaruttrakhand

केदार मोक्ष घाट पर राजकीय सम्मान के साथ किया गया स्वतंत्रता संग्राम सेनानी चिंद्रिया लाल का अन्तिम संस्कार।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights