khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तरकाशीउत्तराखंडदिन की कहानीदुनियाभर की खबरेप्रभावशाली व्यतिराजनीतिकराष्ट्रीयविशेष कवरस्वास्थ्य

ब्रेकिंग:-यहां पहुंचे सूबे के मुख्यमंत्री, टनल में फंसे प्रत्येक श्रमिकों को ₹ 1 लाख की प्रोत्साहन राशि की भेंट।

चिन्यालीसौड़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर मुख्यमंत्री ने जाना टनल में फंसे श्रमिकों का हाल।

रिपोर्ट:- सुभाष बडोनी उत्तरकाशी

Advertisement

मुख्यमंत्री ने टनल में फंसे प्रत्येक श्रमिकों को ₹ 1 लाख की प्रोत्साहन राशि की भेंट।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिन्यालीसौड़ में प्रारंभिक जांच हेतु भर्ती सिलक्यारा टनल से रेस्क्यू किए गए श्रमिकों का हाल-चाल जानने पहुंचे।

Advertisement

इस दौरान मुख्यमंत्री ने टनल से रेस्क्यू किए प्रत्येक श्रमिक को ₹ 1- 1 लाख की सहायता राशि के चेक प्रदान करने के साथ ही रेस्क्यू ऑपरेशन के अंतिम दौर में पाइप पुशिंग हेतु रैट माइनिंग तकनीक से मैन्युअल खुदाई करने वाले श्रमिकों को भी 50-50 हज़ार की प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की।

Advertisement

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने अस्पताल में भर्ती प्रत्येक श्रमिक से उनका कुशलक्षेम जाना । उन्होंने डॉक्टरों से श्रमिकों के स्वास्थ लाभ, चिकित्सा उपचार के बारे में जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने श्रमिकों को दी जा रही विभिन्न सुविधाओं का भी जायज़ा लिया। उन्होंने श्रमिकों के हौसलो की सराहना की।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने रेस्क्यू किए गए श्रमिकों में से टनकपुर, चंपावत के पुष्कर की माता से मोबाइल पर बात कर, पुष्कर के बारे में जानकारी दी और कहा कि सभी श्रमिकों को कुशल बचाकर राज्य सरकार ने अपना वचन निभाया है। मुख्यमंत्री ने पुष्कर की माता को बताया कि पुष्कर के साथ ही सभी श्रमिक सुरक्षित हैं। जल्द ही हायर सेंटर में जांच करवाने के उपरांत पुष्कर सहित अन्य श्रमिकों को उनके घर भेज दिया जाएगा।

Advertisement

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने रेस्क्यू किए गए श्रमिकों के परिजनों से भी मुलाकात की। उन्होंने श्रमिकों के साहस, मनोबल और परिजनों के धैर्य के साथ ही रेसक्यू अभियान में शामिल सभी एजेंसियों व कार्मिकों की अनथक मेहनत को इस अभियान की सफलता का आधार बताया।

श्री धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी सुरंग में फंसे श्रमिकों को सकुशल बाहर निकालने के अभियान पर निरंतर नजर रखे हुए थे और वह श्रमिकों की कुशलता को लेकर हमेशा चिंतित रहते थे प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में श्रमिकों के अनमोल जीवन को बचाने की सरकार की वचनवद्धता और परिजनों के साथ ही जनता द्वारा जताए गए अटूट  विश्वास ने इस बेहद जटिल , चुनौतीपूर्ण और जोखिम भरे बचाव अभियान को कामयाब बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि  सुरंग हादसे के चलते हम सब इस बार दीपावली  नही मना पाए थे, अब सभी श्रमिको को सुरक्षित रेस्क्यू कर लिए जाने के बाद आज दिवाली का जश्न मनाया जाएगा।

Advertisement

मुख्यमंत्री ने श्रमिकों के परिजनों को देहरादून मुख्यमंत्री आवास में दिवाली मनाने हेतु आमंत्रण भी दिया।
इस अवसर पर बताया गया कि प्रारंभिक चिकित्सकीय जांच में सभी श्रमिक ठीक पाए गए हैं।

एहतियात के तौर पर उच्च चिकित्सकीय परीक्षण हेतु इन श्रमिको हायर सेंटर भेजा जाएगा।

Advertisement

इस दौरान कमिश्नर गढ़वाल मंडल श्री विनय शंकर पांडे, जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला, महानिदेशक सूचना बंशीधर तिवारी, पुलिस अधीक्षक अर्पण यदुवंशी,मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार, एडीएम तीर्थपाल सिंह, सीएमओ डॉ०आरसीएस पवांर,एसडीएम चत्तर सिंह,बृजेश कुमार तिवारी,सीओ प्रशांत कुमार,अनुज कुमार,सुरेंद्र भंडारी,भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी,जिलाध्यक्ष भाजपा सत्येन्द्र राणा,आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल,जिला पर्यटन अधिकारी जसपाल चौहान, जिला पूर्ति अधिकारी संतोष भट्ट सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

दोपहर बाद चिन्यालीसौड़ अस्पताल से सभी श्रमिकों को एम्स ऋषिकेश के लिए रेफर किया गया।

Advertisement

अस्पताल से रवानगी पर उत्तरकाशी जिला प्रशासन के द्वारा श्रमिकों को चौलाई के लड्डू ओर पारंपरिक मीठे पकवान/अरसे भेंट कर विदाई दी गई।

चिन्यालीसौड़ से भारतीय वायु सेना के चिनूक हेलीकॉप्टर के जरिए सभी श्रमिकों को एम्स ऋषिकेश भेजा दिया गया है।

Advertisement

Related posts

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चेन्नई में किया रोड शो , उत्तराखंड और तमिल संगमम को आगे बढ़ाने की कही बात।

khabaruttrakhand

Lok Sabha Election: 22 से 27 मार्च तक होंगे प्रत्याशियों के नामांकन, Uttarakhand BJP ने किया तारीखों का एलान

cradmin

ब्रेकिंगः-कृषि विभाग ने किसानों को किया जागरूक।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights