khabaruttrakhand
उत्तराखंड

Uttarakhand: राज्य की GDP बढ़ाने और रोजगार के अवसर खोलने के लिए निवेश, रोपवे से पर्यटन को मिल सकती है उड़ान

Uttarakhand: राज्य की GDP बढ़ाने और रोजगार के अवसर खोलने के लिए निवेश, रोपवे से पर्यटन को मिल सकती है उड़ान

Uttarakhand: राज्य सरकार ने Uttarakhand में पर्यटन और आतिथ्य क्षेत्र में निवेश करके राज्य के सकल घरेलू उत्पाद को बढ़ाने के साथ-साथ रोजगार के नए अवसर खोलने का संकल्प लिया है। सरकार का मानना है कि यदि पर्यटन क्षेत्र में निवेश बढ़ता है तो इससे सेवा क्षेत्र का विस्तार होगा जो राज्य की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में सहायक साबित होगा। इसलिए सेवा क्षेत्र में निवेश धामी सरकार की प्राथमिकता है।

वैसे भी, सेवा क्षेत्र राज्य की आर्थिक विकास दर (जी. डी. पी.) में 40 से 50 प्रतिशत का योगदान देता है। सरकार का दावा है कि पर्यटन क्षेत्र में निवेश से राज्य को वैश्विक पर्यटन स्थल बनाने की उसकी योजना साकार होगी। इसके अलावा, नए निवेश से अछूते पर्यटन स्थलों का भी विकास होगा। वैश्विक निवेशक सम्मेलन के लिए राज्य सरकार ने विभिन्न क्षेत्रों में निवेश की रणनीति बनाई है। जिसमें पर्यटन और आतिथ्य क्षेत्र सबसे प्रमुख है। जहाँ सेवा क्षेत्र में निवेश के माध्यम से सरकारी राजस्व में वृद्धि होगी। साथ ही पर्यटन व्यवसाय में रोजगार के अवसर भी बनेंगे।

Advertisement

Uttarakhand को चारधाम यात्रा के माध्यम से तीर्थयात्रा के लिए विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त है। छह महीने की इस लंबी यात्रा से राज्य में पर्यटन व्यवसाय को बढ़ावा मिलता है। अब सरकार उत्तराखंड में एडवेंचर टूरिज्म, आयुष और वेलनेस टूरिज्म में देश और दुनिया भर के पर्यटकों को आकर्षित करना चाहती है। इसके लिए रोपवे, होटल, रिसॉर्ट, स्कीइंग जैसी बुनियादी सुविधाओं में निवेश को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

राज्य में कई रिसॉर्ट खोलने के लिए समझौता

निवेश सम्मेलन के लिए राज्य सरकार ने महिंद्रा हॉलिडेज एंड रिसॉर्ट्स इंडिया लिमिटेड के साथ 1000 करोड़ रुपये के निवेश समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। यह कंपनी राज्य में विभिन्न स्थानों पर कई रिसॉर्ट बनाने में निवेश करेगी। इससे लगभग 1500 लोगों को रोजगार मिल सकता है। यह उत्तराखंड में महिंद्रा हॉलिडेज एंड रिसॉर्ट्स इंडिया लिमिटेड का सबसे बड़ा निवेश है।

Advertisement

रोपवे के माध्यम से पर्यटन को बढ़ावा मिल सकता है

रोपवे के साथ पर्यटन की शुरुआत होगी। राज्य सरकार की कई पर्यटन स्थलों को रोपवे से जोड़ने की योजना है। ताकि देश और दुनिया भर से आने वाले पर्यटक आसानी से पहुंच सकें। रोपवे के क्षेत्र में पोमा समूह के साथ 2,000 करोड़ रुपये के निवेश के लिए और उषा ब्रेको के साथ 1,000 करोड़ रुपये के निवेश के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं।

स्की रिसॉर्ट और केबल कार परियोजना में 3800 करोड़ रुपये का निवेश

साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए, सरकार ने औद्योगिक समूह कायान जेट के साथ एक निवेश समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। जिसमें कयान जेट स्की रिज़ॉर्ट में 2100 करोड़ रुपये और केबल कार परियोजना में 1700 करोड़ रुपये का निवेश करेगा। स्कीइंग के लिए प्रसिद्ध औली के अलावा मुनस्यारी के दयारा बुग्याल में एक स्की रिसॉर्ट बनाया जाएगा।

Advertisement

Uttarakhand में पर्यटन क्षेत्र में निवेश की काफी संभावनाएं हैं। नए पर्यटन स्थलों पर बुनियादी सुविधाओं में निवेश करने से पर्यटकों को भी बेहतरीन सुविधाएं मिलेंगी और स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे।

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:- यहां लगी थी सोसाइटी में आग, तीन दर्जन लोग थे फंसे हुए। पढ़ें पूरी खबर।

khabaruttrakhand

Uniform Civil Code: UCC पर पूर्व CM Harish Rawat का बड़ा बयान, कहा- इसे केंद्र सरकार बनाए, राज्य नहीं

cradmin

Uttarakhand: ये कैसी तैयारी…न camp शुरू न खिलाड़ियों की सूची, 38वें National Games की करनी है मेजबानी

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights