khabaruttrakhand
उत्तराखंड

Dehradun निवासी Ankit Saklani रूस से तुर्की की यात्रा के दौरान लापता; परिवार ने उसकी सुरक्षा पर चिंता व्यक्त की, बेईमानी का संदेह

Dehradun निवासी Ankit Saklani रूस से तुर्की की यात्रा के दौरान लापता; परिवार ने उसकी सुरक्षा पर चिंता व्यक्त की, बेईमानी का संदेह

Dehradun : Dehradun जिले के नेहरू गाँव के निवासी Ankit Saklani पिछले 10 दिनों से अदृश्य हैं। कहा जा रहा है कि उन्होंने रूस से टर्की जा रहे एक जहाज से गायब हो गए हैं। उन्हें टर्की के करीब गायब होने की रिपोर्ट मिली है। उनकी पत्नी Pinky Saklani कहती हैं कि उन्होंने 1 दिसम्बर से 10 दिसम्बर तक लगातार बातचीत की थी। Ankit ने अपनी पत्नी को वीडियो भेजा था और उन्होंने आपत्ति जताई थी कि जहाज में उसके साथ कुछ अनुकूल घटित हो सकता है।

खबर विस्तार से

Ankitan Saklani ने अपनी पत्नी Pinky Saklani को एक वीडियो भी भेजा था जिसमें उन्होंने व्यक्त किया था कि उसका कत्ल हो सकता है। वर्तमान में बताया जा रहा है कि वे टर्की से आना चाहते थे, लेकिन इसके बाद कुछ भी नहीं पता चला। 18 दिसम्बर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। उनकी पत्नी ने मामूली कोशिशों के बावजूद विदेश मंत्रालय और एलविस कंपनी को खत लिखे हैं। इसके साथ ही, कई लोक प्रतिष्ठानों को सहायता के लिए अनुरोध करने वाले पत्र भी लिखे गए हैं। लेकिन अब तक कहीं से भी कोई उत्तर नहीं मिला है। Pinky Saklani कहती हैं कि जिस तरह से अंकित गायब हो गए हैं, उसके परिवारवाले भी मारे जा सकते हैं। उन्होंने सरकार से मामले की जाँच करने के लिए मदद मांगी है।

Advertisement

विधायक Umesh Kumar ने कहा –

स्थान पर पहुंचे क्षेत्रीय विधायक Umesh Kumar कहते हैं कि उन्हें एक पत्र मिला है। उन्हीं इस पत्र को विदेश मंत्रालय को भी भेजेंगे और राज्य सरकार से डिमांड करेंगे कि विदेश मंत्रालय से इस मामले की जाँच करने के लिए पत्र लिखा जाए। उन्होंने कहा कि यह एक तुर्की पोर्ट के पास की बात है। इस स्थिति में, यदि विदेश मंत्रालय इस संपूर्ण मामले की जाँच करता है, तो तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी।

Ankit Saklani की माँ ने कहा –

Ankit की माँ कहती हैं कि सभी चिंतित हैं कि उनका बेटा कैसे गायब हो गया है। उन्होंने राज्य सरकार से भी मांग की है कि राज्य सरकार उनके बेटे को खोजने और पूरे मामले की जाँच करवाने के लिए आगे आए।

Advertisement

8 दिनों से गायब

नौकरी के रूप में काम कर रहे Ankit Saklani को न तो कोई संदेश मिला है और न ही कोई वीडियो कॉल। इस तरह, परिवारवाले बहुत चिंतित हैं। सभी की आँखें राज्य सरकार और विदेश मंत्रालय पर हैं कि विदेश मंत्रालय इस पूरे मामले में कौन-कौन सी पहल करता है?

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-वीगन डाईट को बढ़ावा देने और पशुवध प्रवृत्ति को रोकने के उद्देश्य से एम्स ऋषिकेश के काॅलेज ऑफ नर्सिंग में मूवी स्क्रीनिंग का आयोजन।

khabaruttrakhand

यहां के वनो मे एवम मुख्यालय के पहाड़ियों मे भयंकर आग , सुबह तक चला अभियान।

khabaruttrakhand

Lok Sabha Election 2024: हरीश रावत सहित वरिष्ठ नेताओं संग प्रदेश प्रभारी की बैठक, दो सीटों पर होने हैं प्रत्याशी घोषित

cradmin

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights