khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीप्रभावशाली व्यतिराजनीतिकराष्ट्रीयविशेष कवर

जिले में डॉक्टरों की कमी दूर करने का प्रयास कर रही है सरकार। सुरेश भट्ट।

जिले में डॉक्टरों की कमी दूर करने का प्रयास कर रही है सरकार। सुरेश भट्ट।

रिपोर्ट ललित जोशी।

Advertisement

नैनीताल। सरोवर नगरी नैनीताल क्लब सभागार में राज्य मंत्री राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य एवं अनुश्रवण परिषद के उपाध्यक्ष सुरेश भट्ट की अध्यक्षता में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के विभिन्न कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया।


बैठक के दौरान श्री भट्ट ने कहा जिले में 104 डाक्टरों की कमी है, जिसके लिए सरकार प्रयासरत है इसके साथ ही 1000 टेक्नीशियन की नियुक्ति प्रकिया जारी है।

Advertisement

उन्होंने डाक्टरों से सीमित साधनों का अधिकतम उपयोग करने के निर्देश दिए।
बैठक में एनएचएम की भौतिक एवं वित्तीय समीक्षा के अलावा एनएचएम में चल रहे निर्माण कार्य पर चर्चा की गई।
उपाध्यक्ष सुरेश भट्ट ने प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान, राष्ट्ीय किशोर कार्यकम,कायाकल्प कार्यकम,आयुष्मान कार्ड, अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना की विस्तृत जानकारी ली। राष्ट्ीय किशोर स्वास्थ्य कार्यकम के तहत स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि कार्यक्रम तहत 10 से 19 वर्ष के बालक बालिकाओं का शारीरिक, मानसिक स्वास्थ्य, पीयर एज्युकेटर और काउंसलरों के माध्यम से गुणवत्ता परक किशोरों को सलाह दी जाती है।
उन्होंने ने ग्रामीण मातृ मृत्यु दर को कम करना, नवजात मृत्यु दर कम करना, 5 वर्ष से कम आयु के बच्चों की मृत्यु दर कम करना और कुल प्रजनन दर स्थिर रखने की बात कही।

उन्होंने कहा कि ग्ामीण इलाकों स्वास्थ्य विभाग की टीम आयुष्मान कार्ड, गोल्डन कार्य की जानकारी लिए लोगों को जागरुक करने की बात कही।

Advertisement

वही उन्होंने टीबी मुक्त और नशा मुक्ति अभियान के लिए ब्लाकों में शिविर लगाने के निर्देश दिए।

बैठक के दौरान नैनीताल विधायक सरिता आर्या समेत तमाम अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

Advertisement

Related posts

उत्तराखंड के विभिन्न सिविल सेवा के अधिकारियों की पत्नियां इस संस्था से सदस्य के रूप में जुड़कर सामाजिक/जन सेवा के कार्यों में निभा रही अपनी भागीदारी ।

khabaruttrakhand

बिग ब्रेकिंग:- धामी कैबिनेट की बैठक हुई खत्म, आये बड़े फैसले,

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश द्वारा यूथ- 20 कन्सल्टेंसी के अन्तर्गत अंतर्राष्ट्रीय भारत-नेपाल सीमा से सटे विभिन्न क्षेत्रों में स्वास्थ्य चौपाल का किया आयोजन।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights