khabaruttrakhand
Uttar Pradesh

गठबंधन को बड़ा झटका: RLD BJP के साथ जाएगी! इन तीन सीटों पर समझौता हुआ; ऐसे हुए हालात खराब जब समाजवादी पार्टी के साथ संपर्क

गठबंधन को बड़ा झटका: RLD BJP के साथ जाएगी! इन तीन सीटों पर समझौता हुआ; ऐसे हुए हालात खराब जब समाजवादी पार्टी के साथ संपर्क

Lucknow: लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी गठबंधन को एक और झटका लगने का यह तो कच्चा बाबू रह गया है। राष्ट्रीय लोकदल (RLD) के नेता चौधरी जयंत सिंह ने न केवल BJP के साथ संपर्क में हैं, बल्कि इस पर तीन सीटों पर सहमति का अनुबंध होने का दावा भी किया जा रहा है।

सूत्रों के अनुसार, RLD ने BJP से कैराना, अमरोहा, बागपत, मथुरा और मुजफ्फरनगर सीटें मांगी थीं। इनमें से BJP कैराना, अमरोहा और बागपत सीटें देने के लिए तैयार है। मथुरा और मुजफ्फरनगर सीटों पर विरोधाभास है। इस गठबंधन में संभावना है कि NDA समृद्धि में मंत्री पद प्राप्त हो सकता है।

Advertisement

ऐसा भी हुआ है कि SP के संपर्क में होने के बावजूद साफ स्थिति में बदल जाने का खतरा है।

BJP चाहती है कि RLD को पश्चिमी UP की मुस्लिम अधिकांश सीटों के लिए प्रबल करें। SP चीफ अखिलेश यादव ने RLD के साथ गठबंधन की घोषणा की है। सीटों का निर्धारण करने और SP के तीन सीटों पर अपने उम्मीदवारों को RLD के चुनाव प्रतीक पर चुनौती देने के मुद्दे पर फंसे हुए थे।

Advertisement

SP चाहती है कि कैराना, मुजफ्फरनगर और बिजनौर में उम्मीदवार अपनी सीटों पर RLD के प्रतीक पर चुनाव लड़ें। RLD ने मुजफ्फरनगर सीट पर आरएलडी के खिलाफ दावा किया था, जहां पिछले चुनावों में केवल छह हजार वोटों से हार हो गई थी लेट अजित सिंह।

RLD के नेताओं ने कहा था कि वे कैराना और बिजनौर सीटें उनके द्वारा सुझाए गए उम्मीदवारों को देने के लिए स्वीकृति देने के लिए सहमत थे। लेकिन मुजफ्फरनगर और हाथरस सीटों के बारे में उन्होंने अलग-अलग राय लेने के बाद भी दोनों पक्षों के बीच विरोध उत्पन्न हुआ। इसी बीच, बातचीत में RLD के राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ BJP के बीच गठबंधन की बात कही जा रही थी।

Advertisement

बातचीत की खबर पुष्ट नहीं की गई थी, लेकिन सड़कों की बातें अपनी बातें बना रही थीं। RLD के नेतृत्व ने अबतक इसे न तो नकारा और न ही स्वीकारा है, जिसके कारण दिन भर चर्चाएं गति में आ गईं।

रामाशीश: ‘समृद्धि में शामिल होने की खबरें बेतुकी हैं’

RLD के प्रदेशाध्यक्ष रमाशीश राय कहते हैं कि RLD NDA समृद्धि में शामिल होने की बात एक साधुता है। RLD साथ इंडिया गठबंधन का दृढ़ हिस्सा है।

Advertisement

Related posts

बाबरी मस्जिद के समर्थक इकबाल अंसारी को Ayodhya में प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के लिए निमंत्रण मिला है; उन्होंने क्षेत्र में स्वच्छता अभियान में भी योगदान

cradmin

UP News: मुख्यमंत्री Yogi ने निर्देश दिए – बारिश और बर्फानी तूफान से प्रभावित लोगों की तत्काल सहायता करें

cradmin

Ram Mandir: टूटे गुंबद… अंग्रेजी हुकूमत ने साधुओं पर लगाया हर्जाना; अयोध्या की मुक्ति के संघर्ष की दास्तां

cradmin

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights