khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदेहरादूनराष्ट्रीयविशेष कवरस्वास्थ्य

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के ऋषिकेश आई बैंक में दिवंगत विरेंद्र सिंह चौहान पुलिस आरक्षी का उनके परिजनों ने मृत्यु उपरांत कराया नेत्रदान ।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के ऋषिकेश आई बैंक में दिवंगत विरेंद्र सिंह चौहान पुलिस आरक्षी हाल तैनात पुलिस लाइन हरिद्वार का उनके परिजनों ने मृत्यु उपरांत नेत्रदान कराया।

नेत्रदान के प्रति जागरुक लोगों के इस प्रयास से दो नेत्रहीन लोगों का जीवन रोशन हो सकेगा और वह ईश्वर की बनाई हुई इस रंगबिरंगी दुनिया को देख सकेंगे।

Advertisement

एम्स की कार्यकारी निदेशक प्रोफेसर (डॉ.) मीनू सिंह ने नेत्रदान जैसे महादान के इस पुनीत संकल्प के लिए दिवंगत पुलिस आरक्षी के परिजनों की सराहना की।

वहीँ उन्होंने कहा कि इससे अन्य लोगों को भी नेत्रदान के संकल्प की प्रेरणा लेनी चाहिए।

Advertisement

एम्स ऋषिकेश के नेत्र रोग विभागाध्यक्ष प्रोफेसर संजीव कुमार मित्तल ने बताया कि उटेल निवासी विरेंद्र सिंह चौहान (30 वर्ष) का बीते बुधवार की रात सड़क हादसे में असामयिक निधन हो गया।

उनके निधन के बाद भाई राजेश चौहान ने अपने दिवंगत प्रियजन का नेत्रदान कराया।

Advertisement

उनके सहयोगी पुलिस प्रशासन की टीम के सदस्यों ने बताया कि दिवंगत चौहान ने जीते जी मानव सेवा में बहुत योगदान दिया तथा जाने के बाद भी अपनी आंखों से दो नेत्रहीन लोगों का जीवन रोशन कर गए।

एम्स आई बैंक की ओर से बताया गया कि इस नेत्रदान महादान के लिए एम्स पुलिस चौकी प्रभारी श्री बिनेश कुमार, अरुण गुसाईं और अमित पंवार का विशेष योगदान रहा।
गौरतलब है कि ऋषिकेश आई बैंक (एम्स) को स्थापना के बाद से अब तक 812 कॉर्निया प्राप्त हुए हैं।

Advertisement

जिनमें से अधिकांश कॉर्निया जरुरतमंद लोगों को प्रत्यारोपित किए जा चुके हैं l

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-ब्रह्म मुहूर्त में होंगे माँ नन्दा सुनंदा के दर्शन।

khabaruttrakhand

Uttarakhand UCC Bill: आज पारित हो सकता है UCC विधेयक, विधानसभा पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

cradmin

ब्रेकिंग:-जनपद टिहरी पुलिस को मिले 04 हाईवे पेट्रोल वाहन। एसएसपी टिहरी ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights