khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारदिन की कहानीप्रभावशाली व्यतिराष्ट्रीयविशेष कवरस्टोरी

ब्रेकिंग:- दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आप नेता को मिली अंतरिम जमानत, जाने जमानत से जुड़ी और अधिक जानकरी।

सुप्रीम कोर्ट ने आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को अंतरिम जमानत दे दी.

केजरीवाल को बड़ी राहत देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें आगामी लोकसभा चुनाव प्रचार प्रसार के लिए 1 जून तक अंतरिम जमानत दे दी है।

Advertisement

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि केजरीवाल को 2 जून को सरेंडर करना होगा और जेल लौटना होगा।

बताते चलें कि यह मामला दिल्ली सरकार की समाप्त हो चुकी आबकारी नीति 2021-22 के निर्माण और कार्यान्वयन में कथित भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग से संबंधित है।

Advertisement

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जमानत के दौरान उन्हें शर्तों का भी पालन करना होगा।

जाने जमानत से जुड़ी खास बातें।

Advertisement

श्री केजरीवाल को जेल से रिहा होने से पहले 50,000 रुपये का निजी मुचलका भरना होगा।

आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख सीएम कार्यालय या दिल्ली सचिवालय नहीं जा सकेंगे, हालांकि वह लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार कर सकेंगे।

Advertisement

उन्हें उपराज्यपाल वी.के.सक्सेना की अनुमति के बिना किसी भी आधिकारिक अधिनियम पर हस्ताक्षर करने की अनुमति नहीं है।

श्री केजरीवाल दिल्ली में शराब नीति के मुद्दे पर बोलने या अपने ऊपर लगे संदेह पर चर्चा करने में असमर्थ हैं।

Advertisement

दिल्ली के मुख्यमंत्री इस मामले में किसी भी गवाह से संपर्क नहीं कर पा रहे हैं.

केजरीवाल को बड़ी राहत देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए 1 जून तक अंतरिम जमानत दे दी।

Advertisement

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि केजरीवाल को 2 जून को सरेंडर करना होगा और जेल लौटना होगा.

यह मामला दिल्ली सरकार की समाप्त हो चुकी आबकारी नीति 2021-22 के निर्माण और कार्यान्वयन में कथित भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग से संबंधित है।

Advertisement

Advertisement

Related posts

पायलट प्रोजेक्ट:-इस जनपद में किसानों की कमाई बढ़ाने के लिए पायलट प्रोजेक्ट हुआ शुरू।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-भगवान राम तथा भरत के आदर्श स्वीकारने से समाज से स्वयं मिट जाएगा छोटे-बड़े का भेद,पीठाधीश्वर स्वामी कृष्णाचार्य महाराज।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-नैनीताल के हाईकोर्ट में यू के एस एस सी फर्जी वाड़े के मामले में सुनवाई करते हुए सरकार से माँगा गया जबाव।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights