khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीस्टोरी

राकेश राणा ने चारधाम यात्रा के दौरान होने वाली इस इस बात पर जताई चिंता , कही अन्य कई बातें।

*चार धाम यात्रा के पड़ाव में लगातार हो रही यात्रियों की मृत्यु चिंता का विषय है :- राकेश राणा*

उन्होने आरोप लगाते हुए और चितां जाहिर करते हुए कहा की चार धाम यात्रा को शुरू हुए अभी एक सप्ताह ही हुआ है और एक दर्जन से ज्यादा तीर्थ यात्री अपनी जान गवां चुके है।
साथ ही उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि बद्रीनाथ हो या केदारनाथ गंगोत्री हो या यमुनोत्री यात्रा रूट में सभी तरफ लंबे लंबे जाम लगे हैं और यात्री परेसान हैं और सरकार बजाय अव्यवस्था को दुरुस्त करने के पत्रकारों पर रिपोर्टिंग करने के जुर्म में मुकदमे कायम किए जा रहे हैं जो लोकतंत्र में आवाज दबाने की कोशिश है जिसकी कांग्रेस कड़े शब्दों में निंदा करती है।

Advertisement

जिला कांग्रेस कमेटी टिहरी गढ़वाल के अध्यक्ष राकेश राणा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी फरवरी महीने से ही राज्य सरकार से चार धाम यात्रा की व्यवस्थाओं को चाक चौबंद करने की मांग कर रही थी।

उन्होंने कहा कि पार्टी ने इस मुद्दे पर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी को सुझाव पत्र सौंप कर यात्रा मार्ग पर होने वाली दिक्कतों के बारे में अवगत करा दिया था।

Advertisement

अभी यात्रा शुरू हुए एक सप्ताह ही हुआ है और एक दर्जन यात्रियों की मौत चिंता पैदा करने वाली है।

उन्होंने कहा कि यात्रा रूटों पर लंबे लंबे जाम लग रहे हैं और अनेक जगहों पर यात्रियों को भोजन पीने के पानी व ठहरने की मुश्किल पेश आ रही हैं।

Advertisement

उन्होंने कहा कि अभी यात्रा का पीक जून तक आएगा जिसमें यात्रियों की संख्या में कई गुना इजाफा हो सकता है ऐसे में अगर व्यवस्थाएं दुरुस्त नहीं हुईं तो कोई अनहोनी हो सकती है इसलिए सरकार को युद्ध स्तर पर यात्रा की व्यवस्थाओं को चाक चौबंद करना चाहिए।

कहा कि कांग्रेस यात्रा के बारे में किसी प्रकार की नकारात्मक बात नहीं करना चाहती क्यूंकि यात्रा हमारे राज्य की आर्थिकी का बड़ा स्रोत है और इससे देश और दुनिया के करोड़ों सनातनियों की आस्था और विश्वास से जुड़ा है लेकिन यात्रा में अव्यवस्थाओं से भी उन लोगों की भावना को ठेस पहुंचती है जो यहां अध्यात्म और भक्ति भाव से श्रद्धापूर्वक यात्रा के लिए आते हैं किंतु अव्यवस्थाओं का शिकार होकर दुखी होते हैं।

Advertisement

उन्होंने यह भी कहा की कई यात्रीयों ने विभिन्न पुलिस थानों, चौकियों में अपने फोन पैसे और अन्य उपयोगी सामान की गुम होने की भी खबरें लिखी है यह भी एक बड़ी चिंता का विषय है कि देवभूमि उत्तराखंड के तीर्थस्थानों पर अंतर्राष्ट्रीय टप्पेबाज गैंग इस तरह सक्रिय हो रखे हैं इस पर भी पुलिस को सख्त निगरानी रखनी चाहिए।

राज्य सरकार के नुमाइंदों को पत्रकारों को धमकाने और उनके विरुद्ध झूठे मामले दर्ज कराने के बजाय यात्रियों के पंजीकरण, स्वास्थ्य परीक्षण व भोजन पानी और ठहरने की व्यवस्था तथा यातायात को सुचारू रखने के लिए फौरी कदम उठाने चाहिए।

Advertisement

क्योंकि चार धाम यात्रा पर आने वाले यात्रियों की 10 दिन की यात्रा की लेकिन जगह अगर उसके 15 दिन लग जाते हैं तो उसकी आर्थिक व्यवस्था पूरी तरह चर्मरा जाती और वह मानसिक तौर पर परेशान हो जाता है ।

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंगः-तंबाकू निषेध दिवस पर छात्र-छात्राओं और विद्यालय परिवार ने ली शपथ।

khabaruttrakhand

Uttarakhand Waqf Board के अध्यक्ष ने घोषित किया: मदरसों में श्रीराम का पाठ होगा, औरंगजेब की पढ़ाई होगी बंद; राम से मिलता है हमारा DNA

cradmin

कांवड़ यात्रा:-कांवड़ यात्रा को सुचारु एवं शांतिपूर्ण पूर्ण ढंग से संचालित कराने को लेकर जिलाधिकारी ने रविवार को अधिकारियों की ली महत्वपूर्ण बैठक।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights