khabaruttrakhand
उत्तरकाशीदिन की कहानी

ब्रेकिंगः-पर्यटकों व् पर्वतारोहियों के लिए खुला गंगोत्री नेशनल पार्क।

पर्यटकों व् पर्वतारोहियों के लिए खुला गंगोत्री नेशनल पार्क/ सुभाष बडोनी उत्तरकाशी.

गंगोत्री नेशनल पार्क के गेट कल 1 अप्रैल से पर्यटकों के लिए खोल दिए गए हैं।
अब 1 अप्रैल से लेकर नवंबर तक पर्यटक गंगोत्री नेशनल पार्क की सैर कर सकेंगे।
आपको बताते चले की बीते दो सालों से कोरोना के कारण यहां पर नाममात्र ही सैलानी आ रहे थे।
इस बार वन अधिकारियो को उम्मीद है कि बड़ी सख्या में पर्यटक गंगोत्री नेशनल पार्क का दीदार करने आएंगे.पर्यटकों के साथ साथ पर्वतारोहियों की भी बुकिंग आनी शुरू हो गई है।

Advertisement

गंगोत्री नेशनल पार्क के उपनिदेशक RN पांडेय और रेंज अधिकारी प्रताप पंवार व् राजवीर रावत वन दरोगा की मौजूदगी में गंगोत्री नेशनल पार्क के कनखू बैरियर गेट को ग्रीष्मकाल के लिए खोल दिया गया है।

इसमें गंगा का उद्गम गौमुख सहित गंगोत्री ग्लेशियर, डोकरानी ग्लेशियर में स्थित शिवलिंग, सतोपंथ जैसे गगनचुम्बी हिमशिखर हैं. पार्क के गेट खुलने से सैलानियों और पर्यटन व्यवसाय से जुड़े ग्रामीणों में भी उत्‍साह है।

Advertisement

आपको बता दें कि कोरोना काल को छोड़ कर हर साल बड़ी संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक और पर्वतारोही गंगोत्री नेशनल पार्क में पहुंचते हैं।
इसके साथ स्नो लेपर्ड और भरल जैसी दुर्लभ वन्यजीव प्रजातियों के लिए यह पार्क विश्व विख्यात है।
गंगोत्री नेशनल पार्क के अंर्तगत ही विश्व का सबसे खतरनाक मार्ग गड़तांग गली सहित भारत-चीन अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटी खूबसूरत नेलांग और जाडुंग घाटिया हैं।
पिछले साल यहां पर बहुत कम पर्यटक आए थे, जिससे गंगोत्री नेशनल पार्क की आमदमी भी बहुत कमी हुई थी।

पिछले साल गंगोत्री नेशनल पार्क से वन विभाग को 16 लाख रुपए मिले थे।
हालांकि इस बार अभी से पर्यटकों की बुकिंग आनी शुरू हो गई है, जिससे इस बार पार्क को अच्छी आमदनी होगी ऐसी उम्मीद जताई जा रही है।

Advertisement

Related posts

जिलाधिकारी द्वारा शनिवार को तहसील धनोल्टी का किया गया निरीक्षण ,जारी किए आवश्यक निर्देश।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-एफेरेसिस में राज्य स्तरीय क्षमता निर्माण कार्यशाला संपन्न एम्स ऋषिकेश में हुआ सीएमई का सफल आयोजन ।

khabaruttrakhand

जनता मिलन कार्यक्रम में सोमवार को 34 शिकायतें शिकायतें/अनुरोध पत्र दर्ज किये गये।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights