khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडरुद्रप्रयागस्वास्थ्य

ब्रेकिंगः-तबियत बिगड़ने की वजह से केदारनाथ धाम से 3 तीर्थयात्रियों को उपचार के लिए पहुँचाया गया एम्स ऋषिकेश पहुंचाया गया। जारी हुआ हेल्थ बुलेटिन।

एम्स ऋषिकेष तबियत बिगड़ने की वजह से बुधवार को केदारनाथ धाम से 3 तीर्थयात्रियों को उपचार के लिए एम्स ऋषिकेश पहुंचाया गया। हेली एम्बुलेंस के माध्यम से एम्स लाए गए इन तीनों यात्रियों के स्वास्थ्य में अब सुधार है, सभी लोग अस्पताल की इमरजेंसी में भर्ती किए गए हैं।

ऑक्सीजन की कमी के चलते केेदारनाथ क्षेत्र में तीर्थयात्रियों की परेशानी लगातार बढ़ रही है। खासतौर से पैदल मार्ग से केदारनाथ धाम जाने वाले यात्री इस समस्या से ज्यादा परेशान हैं। गौरतलब है कि बीते मंगलवार की शाम अलग-अलग स्थानों से केदारनाथ धाम के दर्शन को जा रहे 3 यात्रियों की यात्रा मार्ग में अचानक तबियत बिगड़ गई।
गौरीकुण्ड से केदारनाथ पैदल मार्ग पर सांस फूलने और घबराहट बढ़ने से तीनों लोग गंभीररूप से अस्वस्थ हो गए। बीती शाम लिनचोली स्थित स्वामी विवेकानन्द चेेरिटेबल अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद तीनों यात्रियों को बुधवार को हेली एम्बुलेंस द्वारा एम्स ऋषिकेश पहुंचाया गया। एम्स की इमरजेंसी में उपचार हेतु भर्ती किए इन यात्रियों के परिजनों ने बताया कि मंगलवार दोपहर बाद केदारनाथ पैदल मार्ग पर रुक-रुक कर तेज बारिश हो रही थी। इसी दौरान केदारनाथ से कुछ पहले पैदल चलते समय उन्हें ऑक्सीजन की कमी महसूस होने लगी। इनमें कुछ लोगों को सांस फूलने पर बेहोशी की शिकायत हुई और उन लोगों की स्थिति गंभीर हो गई। लिहाजा सभी को रात्रि समय लिनचोली के समीप स्थित अस्पताल में भर्ती कर प्राथमिक उपचार दिया गया जबकि बुधवार को जिला प्रशासन के सहयोग से उन्हें हेली एम्बुलेंस के माध्यम से एम्स पहुंचाया गया है।

Advertisement

इस बाबत जानकारी देते हुए एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि दो अलग- अलग उड़ानों द्वारा एम्स ऋषिकेश लाए गए यात्रियों में नागपुर, महाराष्ट्र निवासी 65 वर्षीय ताराचंद और जिला भिंड, मध्य प्रदेश निवासी 49 साल की मुन्नी देवी को दोपहर लगभग साढ़े बारह बजे तथा ग्वालियर, मध्य प्रदेश की 60 वर्षीया तीर्थ यात्री सावित्री देवी को दूसरी हेली एम्बुलेंस से लगभग डेढ़ बजे एम्स ऋषिकेश लाया गया।
उन्होंने बताया कि इन लोगों को सांस लेने में कठिनाई, घबराहट और बेचैनी आदि की शिकायत थी। उन्होंने बताया कि उचित उपचार हेतु तीनों यात्रियों को एम्स की मेडिसिन इमरजेंसी में भर्ती किया गया है।
भर्ती मरीजों के स्वास्थ्य में सुधार है,इमरजेंसी विभाग के चिकित्सक उनका इलाज कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि बीती 12 मई से अब तब केदारनाथ से कुल 7 तीर्थयात्रियों को हेली एम्बुलेंस के माध्यम से उपचार के लिए एम्स ऋषिकेश लाया जा चुका है।

Advertisement

Related posts

नर्सिंग के बिना अधूरी हैं स्वास्थ्य सेवाएं – ऋषिकेश में यहां मनाया जा रहा नर्सिंग सप्ताह।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-महामहिम राज्यपाल उत्तराखंड ने सीमान्त गाँव मलारी का किया दौरा ,विषम भौगोलिक परिस्थितियों में सीमा पर डटे जवानों का बढ़ाया हौसला, श्री बद्रीनाथ मन्दिर में पूजा अर्चना कर की सम्पूर्ण विश्व एवं मानवता के कल्याण की कामना।

khabaruttrakhand

राफ्टिंग ब्रेकिंग:-सोशल मीडिया पर राफ्टिंग गाइड व पर्यटकों के बीच मारपीट के वायरल वीडियो पर कार्यवाही, तीन अभियुक्त गिरफ्तार।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights