khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारआध्यात्मिकउत्तरकाशीउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीराजनीतिकराष्ट्रीयविशेष कवर

ब्रेकिंग:-आदिपुरूष” तत्काल हो प्रतिबंधित: शान्ति प्रसाद भट्ट।

*फिल्म “आदिपुरूष” तत्काल हो प्रतिबंधित: शान्ति प्रसाद भट्ट*

*रामानंद सागर कृत रामायण धारावाहिक को इस फिल्म में तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया। राकेश राणा*

Advertisement

*नई टिहरी में कांग्रेस ने फिल्म आदिपुरुष को तत्काल बैन करने की मांग एक स्वर में की है, उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री शान्ति प्रसाद भट्ट, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राकेश राणा, नरेंद्र चंद रमोला,पूर्व जिलाध्यक्ष सूरज राणा वरिष्ट नेता ज्योति प्रसाद भट्ट आनंद सिंह बेलवाल, पीसीसी डेलीगेट नरेन्द्र राणा, मुरारी लाल खंडवाल, अखिलेश उनियाल, मुशराफ अली,विक्रम पंवार, कुलदीप पंवार, देवेंद्र नौडियाल, साब सिंह सजवान, मुर्तजा बेग, मान सिंह रौतेला, महिला कांग्रेस की प्रदेश महामंत्री श्रीमती दर्शनी, मुन्नी बिष्ट, ममता उनियाल, महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष श्रीमती आशा रावत,आदि नेताओ ने कहा कि यह फिल्म हमारे अराध्य देव प्रभु श्री राम और महाबली हनुमान का अपमान करती है।
यह हमारे अराध्य का मजाक उड़ाती है, हमे आश्चर्य है, कि भाजपा और उसके आनुषंगिक संगठन कैसे इस फिल्म का समर्थन कर रहे है, यह फ़िल्म रामायण को अपने अनुकूल संचालित कर रही है, और तोड़मरोड़ कर बनाई गई है*।

*जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राकेश राणा ने कहा कि हमारे पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी जी के समय रामायण सीरियल बना था, तब श्री रामानंद सागर जी से भेट कर इसे प्रोत्साहित कर खूब सराहना की थी और देश भर में प्रचारित प्रसारित करवाया था किंतु इस फिल्म आदिपुरुष ने हम सब हिंदुओ की भावनाओ को गहरी ठेस पहुंचाई है।
इसके पात्र, डायलॉग सब मजाक लगते है, और यह सनातन संस्कृति के विरुद्ध वालीवुड जैसे है, यह फिल्म हमारे अराध्यो का मजाक है।
वहीं इन्होंने यह भी कहा कि हमे दुख है, कि इसके लेखक को उत्तराखंड के मुख्य्मंत्री ने सम्मानित किया है*।

Advertisement

Related posts

अगस्त्य इंटरनेशनल फाउंडेशन ने विज्ञान प्रदर्शनी में बच्चों को दिखाए मॉडल।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-महिलाओं को घसियारी कल्याण योजना से लाभान्वित के बारे में मुख्य विकास अधिकारी ने दी जानकारी।

khabaruttrakhand

कैबिनेट मंत्री वन, तकनिकी शिक्षा, भाषा व निर्वाचन मंत्री की अध्यक्षता में नरेन्द्रनगर के शहरी स्वरूप पर वन भूमि दर्शाये जाने से उत्पन्न स्थिति के समाधान हेतु कलक्ट्रेट सभागार में वन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights