khabaruttrakhand
अपराधआकस्मिक समाचारआध्यात्मिकउत्तरकाशीउत्तराखंडखेलटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदेहरादूनराजनीतिकराष्ट्रीयविशेष कवरस्टोरीस्वास्थ्यहरिद्वार

दुःखद हादसा:-आग लगने से 10 लोगों की मौत की , मृतक के परिवार को 10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि का एलान।

दुःखद हादसा: आग लगने से 10 लोगों की मौत की ,मृतक के परिवार को 10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि का एलान।

ताजा मामला तमिलनाडु से सामने आया है जहाँ एक ट्रेन हादसा हुआ है।

Advertisement

मीडिया खबरों से मिल रही जानकरी के अनुसार शनिवार तड़के मदुरै रेलवे स्टेशन पर एक खड़ी ट्रेन के डिब्बे में आग लगने से कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई यह जानकरी दक्षिणी रेलवे ने साझा की है।

यह भी जानकरी सामने निकल कर आई है कि 65 यात्रियों के साथ प्राइवेट पार्टी कोच लखनऊ से आया था।

Advertisement

वही इस दुखद एवं बहुत ही दर्दनाक हादसे में रेलवे कर्मचारियों के अलावा पुलिस, अग्निशमन और बचाव सेवा कर्मियों ने आग बुझाने के साथ साथ डिब्बे से जले हुए शवों को भी बाहर निकाला।

रिपोर्ट से मिल रही जानकरी के अनुसार बताया जा रहा है कि दक्षिणी रेलवे ने इस मामले में विज्ञप्ति में कहा है कि यह आग शनिवार सुबह 5.15 बजे लगी और वही हादसे के तुरंत आधे घंटे बाद मौके पर पहुंचे अग्निशमन सेवा कर्मियों ने सुबह 7.15 बजे तक आग पर काबू पा लिया था।

Advertisement

रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि यह एक निजी पार्टी कोच था जो दिनांक (25 अगस्त) ट्रेन संख्या 16730 (पुनालुर-मदुरै एक्सप्रेस) तथा इसे नागरकोइल जंक्शन पर जोड़ा गया था।

वही पार्टी कोच को अलग कर दिया गया था और मदुरै स्टेबलिंग लाइन पर रखा गया है।

Advertisement

इस पार्टी कोच ने 17 अगस्त को लखनऊ से यात्रा शुरू की थी और इसका रविवार को चेन्नई लौटने और वहां से लखनऊ लौटने का कार्यक्रम था।

रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि आग लगने की वजह रसोई गैस सिलिंडर का अनाधिकृत प्रयोग था।

Advertisement

वही इस घटना में शामिल प्रत्येक मृतक के परिवार को 10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी।

वही घटना के बाद दक्षिणी रेलवे ने आग की घटना और हताहतों की संख्या से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए दो हेल्प लाइन नंबर जारी किए है जो इस प्रकार से है।
9360552608, 8015681915।

Advertisement

बताया जा रहा है कि किसी भी व्यक्ति द्वरा व्यक्ति आईआरसीटीसी पोर्टल का उपयोग करके ट्रेन के पार्टी कोच को बुक किया जा सकता है, गैस सिलेंडर जैसा कोई भी ज्वलनशील पदार्थ ले जाने की अनुमति इसमें नही होती है।

Advertisement

Related posts

एम्स में मधुमेह रोग पर छह दिवसीय ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू हुआ। प्रशिक्षण कार्यक्रम में राजस्थान, दिल्ली, उत्तराखंड, कलकत्ता की नर्सेस व डायटीशियन हैं प्रतिभागी।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-रामनगर से लौटी एम्स की ’हेली इमरजेंसी मेडिकल टीम’।

khabaruttrakhand

Nainital: Uttarakhand के सांसदों-विधायकों के खिलाफ दर्ज केस की High Court ने मांगी कुंडली, दो हफ्ते सरकार को देना होगा जवाब

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights