khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीदुनियाभर की खबरेनैनीतालप्रभावशाली व्यतिराजनीतिकराष्ट्रीयविशेष कवरस्वास्थ्य

खेल मंत्री रेखा आर्या ने 47 वें सिद्धपीठ श्री कुंजापुरी पर्यटन एवं विकास मेले में युवाओं से की नशे से दूर रहने की अपील की।।

खेल मन्त्री रेखा आर्या ने अभिवावकों से की अपील कहा बच्चों को खेल के प्रति करें प्रेरित।

खेल सिखाता है जीवन मे अनुशासन,खेलने से शरीर होता है निरोगी, मस्तिष्क का होता है सम्पूर्ण विकास-रेखा आर्या।

Advertisement

खेल मंत्री रेखा आर्या ने किया 47 वें सिद्धपीठ श्री कुंजापुरी पर्यटन एवं विकास मेले के दूसरे दिन खेल प्रतियोगिताओं के उद्घाटन समारोह में प्रतिभाग, युवाओं से की नशे से दूर रहने की अपील।

Advertisement

प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्या ने सोमवार को जनपद टिहरी के नरेंद्रनगर में आयोजित 47वें सिद्धपीठ श्री कुंजापुरी पर्यटन एवं विकास मेले के दूसरे दिन खेल प्रतियोगिताओं के उद्घाटन समारोह के मौके पर वन एवं पर्यावरण मंत्री सुबोध उनियाल के साथ मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग किया।

इस दौरान स्कूली छात्र छात्राओं द्वारा विभिन्न रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी गई, जिनमें देवभूमि की संस्कृति की झलक देखने को मिली।

Advertisement

इस मौके पर खेल मंत्री ने कहा कि आज के समय में पढ़ाई के साथ-साथ खेलों में भी बढ़ चढ़कर भाग लेने से युवा अपना भविष्य सुरक्षित कर सकते हैं।

साथ ही वह खेलो में भागीदारी करने से निरोगी भी बनेंगे।

Advertisement

कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा खेलों को बढ़ावा देने हेतु न्याय पंचायत स्तर पर ही 15 सौ रुपए छात्रवृत्ति प्रदान की जा रही है।

खेलो और खिलाड़ियों के लिए सरकार लगातार प्रयासरत है, जिसके तहत मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में आउट ऑफ टर्न जॉब की व्यवस्था भी की गई है।

Advertisement

उन्होंने कहा कि जल्द ही खिलाड़ियों के लिए 4 प्रतिशत आरक्षण भी लाने जा रहे हैं, जिससे खिलाड़ियों का भविष्य सुरक्षित होगा।

वहीं युवाओं में नशे की बढ़ती प्रवृत्ति पर चिंता जाहिर करते हुए अभिभावकों, समाजसेवियों एवं अन्य से युवाओं को खेल में बढ़ चढ़कर सहयोग करने की अपील भी की।

Advertisement

उन्होंने कहा कि मेले का उद्देश्य खेल एवं संस्कृति प्रतिभाओं को उभारना है।

राज्य सरकार मेलों के संरक्षण, उत्तराखंड की लोक संस्कृति को आगे बढ़ाने एवं उसके संवर्द्धन हेतु प्रतिबद्ध है।

Advertisement

राज्य के मेले और संस्कृति राज्य तक ही सीमित न रहे, इन्हें देश विदेश में पहचान मिले इसके लिए राज्य सरकार लगातार कार्य कर रही है।

वैश्विक पटल पर हमारी संस्कृति को एक पहचान मिले, इसके लिए भी कार्य कर रहे है।

Advertisement

दैवीय स्थानों, पूजा स्थलों, पौराणिक स्थलों को विकसित कर तीर्थाटन और पर्यटन के नक्शे पर स्थापित करने का प्रयास किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार उत्तराखण्ड के गांवों एवं युवाओं को सशक्त बनाने एवं मातृशक्ति को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रयासरत है।

Advertisement

हमारे युवा आज स्वरोजगार को अपना कर हर क्षेत्र में काम कर रहे हैं, वहीं मातृशक्ति स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से अनेक उत्पादों का निर्माण कर रही हैं।

इस दौरान मंदिर समिति द्वारा कैबिनेट मंत्री को क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया गया जिनके निस्तारण का आश्वासन उनके द्वारा ग्राम वासियों को दिया गया।

Advertisement

इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष व मेला अध्यक्ष राजेन्द्र विक्रम सिंह पंवार, ब्लॉक प्रमुख नरेंद्रनगर राजेन्द्र भंडारी, चंबा शिवानी बिष्ट, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद मुनीकीरेती रोशन रतूड़ी सहित समस्त मेला पदाधिकारी, स्कूलों के प्रधानाचार्य, स्कूली छात्र छात्राएं, स्थानीय जनता उपस्थित रही।

Advertisement

Related posts

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित द्वारा रविवार को सेम मुखेम पहुंचकर मेले को लेकर लिया गया समस्त व्यवस्थाओं का जायजा ।

khabaruttrakhand

उत्तराखंड- आज दो बार भूकंप के झटको से डोली धरती, जानें तीव्रता…

cradmin

PTCUL Scam: जन संघर्ष मोर्चा ने सतर्कता जांच में सरकार की देरी पर सवाल उठाए, GMVN के पूर्व उपाध्यक्ष ने चिंता जताई

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights