khabaruttrakhand
राजनीतिक

Delhi Liquor Case: Kejriwal बोले- BJP मेरी गिरफ्तारी चाहती है, ED का नोटिस अवैध

Delhi Liquor Case: Kejriwal बोले- BJP मेरी गिरफ्तारी चाहती है, ED का नोटिस अवैध

ED समन मामले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री Arvind Kejriwal ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि दो साल में कई बार छापे पड़े। कोई भ्रष्टाचार नहीं हुआ है। ऐसे फर्जी केस में आम आदमी पार्टी के कई नेता जेल में इन्होंने रखे हैं। खुलेआम गुंडागर्दी हो रही है। पूछताछ के बहाने Arvind Kejriwal को बुला लो और गिरफ्तार कर लो, ताकि में लोकसभा चुनाव में प्रचार ना कर पाऊं।

दिल्ली के CM ने कहा कि ये सारे नोटिस गैर कानूनी हैं। क्या मुझे गैर कानूनी सम्मन का उत्तर देना चाहिए। मुझे लोकसभा चुनाव में प्रचार करने से रोकने की साजिश है। भाजपा का मकसद मुझे लोकसभा चुनाव के प्रचार से रोकना है।

Advertisement

BJP पर हमला बोलते हुए सीएम ने कहा कि जो इनकी पार्टी ज्वाइन कर लेते हैं। उसके सारे पाप धुल जाते हैं। मनीष सिसोदिया और संजय इसलिए जेल में हैं क्योंकि उन्होंने भाजपा को ज्वाइन नहीं किया। हमें लोकतंत्र को बचाना है। मैं पूरी ईमानदारी से इनका मुकाबला कर रहा हूं। हमने भ्रष्टाचार नहीं किया। ऐसे देश आगे नहीं बढ़ सकता। ये क्या चल रहा है। ये जनतंत्र के लिए गलत है। इसे रोकना है। मेरा तन मन धन देश के लिए है। मेरी सांस, खून की एक एक बूंद और कतरा देश के लिए है। मुझे आपका साथ चाहिए।

Arvind Kejriwal ने कहा कि पिछले दो साल से भाजपा की एजेंसियों ने शराब घोटाले में कई छापेमारी की और कई गिरफ्तारी की। लेकिन अभी तक एक भी पैसे का हेरफेर नहीं मिला। ऐसे फर्जी केस में कई आप नेताओं को इन्होंने जेल में रखा हुआ है। अब भाजपा मुझे गिरफ्तार करना चाहती है फर्जी समन भेजकर ये लोग मुझे बदनाम करना चाहते हैं। इन्होंने मुझे समन भेजा हुआ है और मेरे वकीलों ने बताया कि वो समन गैर कानूनी है। कानूनी रूप से सही समन आएगा तो मैं पूरा सहयोग करूंगा।
बता दें कि ईडी ने दिल्ली शराब घोटाला केस में 3 जनवरी को पूछताछ के लिए तीसरा समन जारी किया था। इससे पहले दो समन में भी केजरीवाल ईडी के सामने पेश नहीं हुए थे। ईडी ने 21 दिसंबर को पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन तब सीएम विपश्यना के लिए चले गए थे।

Advertisement

सीएम ने 3 जनवारी यानी बुधवार को ईडी को पत्र लिखकर जवाब दिया। केजरीवाल ने ईडी को भेजे जवाब में कहा कि आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक के नाते वह राज्यसभा की चुनाव प्रक्रिया में व्यस्त हैं। इसके अलावा गणतंत्र दिवस की तैयारी में भी लगे हुए हैं, ऐसे में ईडी अपने सवालों की फेहरिस्त भेजना चाहे तो भेज सकती है, उनके जवाब दे देंगे। उन्होंने ईडी को भेजे गए पत्र में उनके सवाल का जवाब नहीं देने के मामले में घेरा।

Arvind Kejriwal ने कहा, उनकी ओर से पहले दो समन पर उठाई गई आपत्ति का जवाब नहीं देने पर वह आश्चर्यचकित है। पहले के समन से मिलता-जुलता समन फिर से भेज दिया। इससे साफ स्पष्ट होता है कि ईडी के पास इन समन का कोई औचित्य नहीं है।

Advertisement

उन्होंने आरोप लगाया कि ईडी का व्यवहार मनमाना और गैर पारदर्शी है। लिहाजा पहले की तरह फिर से कह रहे हैं कि वह कानून का सम्मान करते है और जांच में सहयोग के लिए तैयार हैं। आप संयोजक ने कहा कि ईडी की चुप्पी निहित स्वार्थ की पुष्टि करती है। वह कई ऐसे मामले जानते हैं, जिसमें समन वाले व्यक्ति के पूछने पर ईडी ने विस्तृत स्पष्टीकरण दिया है, लेकिन उनके सवाल पर स्थिति स्पष्ट नहीं की जा रही है। लिहाजा एक बार फिर से मांग कर रहे हैं कि ईडी उनके सवालों का जवाब दें और वह इस जांच की मंशा दायरे को ठीक से समझ सके।

Advertisement

Related posts

व्यवस्थाओं की खुली पोल:-उपजिलाधिकारी द्वारा कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय हॉस्टल का आकस्मिक निरीक्षण,पाई कई खामियां। संबंधित वार्डन का वेतन अग्रिम आदेशों तक रोकने तथा कारण बताओं नोटिस जारी।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-क्रांति भूमि से कांग्रेसजनों ने भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने का लिया संकल्प: शान्ति प्रसाद भट्ट।

khabaruttrakhand

भारत-नेपाल सीमा के आसपास पर्यटन को बढ़ावा देने में जुटे दोनों देश

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights