khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारदिन की कहानीराष्ट्रीयविशेष कवर

यहाँ आयकर विभाग ने एक जूता विक्रेता और उससे जुड़े लोगों के खिलाफ की छापेमारी , इतने रुपये की अधिकारी भी गिनते गिनते थक गए, बुलाना पड़ा इन्हें।

बताया जा रहा है कि अभी तक 40 करोड़ रुपये की नकदी मिली है और गिनती अभी भी जारी है।

उत्तर प्रदेश के आगरा में आयकर विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है, मीडिया रिपोर्ट के अनुसार तीन जूते की दुकानों पर छापा मारा गया है जिसमे बेहिसाब संपत्ति का पता चला है।

Advertisement

बताया जा रहा है कि अभी तक 40 करोड़ रुपये की नकदी मिली है और गिनती अभी भी जारी है।

फुटवियर कारोबारियों की इतनी बड़ी संपत्ति देखकर इनकम टैक्स के अधिकारी भी हैरान हैं।

Advertisement

रिपोर्ट के अनुसार आगरा में आयकर विभाग ने एक जूता विक्रेता और उससे जुड़े लोगों के खिलाफ छापेमारी की।

फिलहाल, 40 करोड़ की नकदी बरामदगी की बात कही जा रही है, बाकी नोटों की गिनती अभी भी जारी है।

Advertisement

इस मामले में मीडिया को आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि अब तक 40 करोड़ रुपये की रकम बरामद की जा चुकी है और बाकी पैसों की गिनती की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, जूता उद्यमी के घर पर तलाशी के दौरान 500 रुपये के नोट समेत कई नोटों का बंडल मिला।
कितना कैश बचा है इसका हिसाब अभी लगाया जा रहा है।

Advertisement

वहीं अब आयकर विभाग ने बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों को बैंक नोटों की गिनती की जिम्मेदारी सौंपी है।

अब तक अनुमान लगाया गया है कि जो 40 करोड़ रुपये बरामद किए गए है ।इसका कोई रिकार्ड नहीं है।

Advertisement

शेष राशि गिनी जा रही है और भारी संख्या में मिले नोटों की गिनती करते-करते अधिकारी और कर्मचारी थक गए हैं।

आयकर विभाग को उन पर कर कर चोरी और आय से अधिक संपत्ति रखने का संदेह था।
जब पुलिस को इसकी सूचना मिली तो टीम ने तीन जूता दुकानों के परिसर की तलाशी ली. हालाँकि, मंत्रालय के प्रतिनिधि इस मामले पर बोलने से बच रहे हैं।

Advertisement

इससे पहले आयकर विभाग ने यूपी के कानपुर में बड़ी छापेमारी की थी।
विभाग ने यहां बंशीधर तंबाकू कंपनी में छापेमारी की थी और इस कंपनी ने कानपुर के अलावा मुंबई, दिल्ली और गुजरात में भी अपना कारोबार बढ़ाया है।

इस संबंध में सूचना मिलने के बाद करीब 20 इलाकों में छापेमारी की गयी।

Advertisement

सूत्रों ने बताया कि कागज पर इस तंबाकू कंपनी का टर्नओवर 20 से 25 करोड़ रुपये के बीच दिखाया गया था, लेकिन जांच करने पर पता चला कि कंपनी का टर्नओवर 100 से 150 करोड़ रुपये के बीच है।

वही विभाग ने यह छापेमारी 29 फरवरी 2024 को की थी।

Advertisement

कंपनी के मालिक ने दिल्ली में भी घर बनाया हुआ था।

जब कर अधिकारी दिल्ली पहुंचे तो उन्हें साठ करोड़ रुपये से अधिक कीमत की गाड़ियां मिलीं।

Advertisement

इसमें 16 करोड़ रुपये की रोल्स-रॉयस फैंटम भी थी।

Advertisement

Related posts

ब्रेकिंग:-होम्योपैथिक विभाग ने सल्ट ग्राम सभा बगियाडना में स्वास्थ्य शिविर।

khabaruttrakhand

महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मूर्म का तहसील कीर्तिनगर चौरास क्षेत्रांतर्गत प्रस्तावित भ्रमण कार्यक्रम।

khabaruttrakhand

मुख्यमंत्री श्री धामी ने आरुषि निशंक व उनकी टीम को दी बधाई, जाने कारण।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights