khabaruttrakhand
आकस्मिक समाचारउत्तराखंडटिहरी गढ़वालदिन की कहानीप्रभावशाली व्यतिविशेष कवर

जनता मिलन कार्यक्रम:- 37 शिकायतें/अनुरोध पत्र किये गए दर्ज, अधिकांश शिकायतें पुनर्वास, पेयजल, शिक्षा, सड़क, स्वास्थ्य, वन आदि विभागों से रही संबंधित।

सोमवार को जिलाधिकारी मयूर दीक्षित की उपस्थिति में जनता मिलन कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें 37 शिकायतें/अनुरोध पत्र दर्ज किये गए। अधिकांश शिकायतें पुनर्वास, पेयजल, शिक्षा, सड़क, स्वास्थ्य, वन आदि विभागों से संबंधित रही।

जिला कलेक्ट्रेट सभागार नई टिहरी में आयोजित जनता मिलन कार्यक्रम में ग्राम सौड़ जड़ीपानी निवासी जयवीर सिंह नेगी ने कुछ लोगों पर जबरन उनकी भूमि नापने तथा जनमाल को खतरा होने की शिकायत की गई, जिस पर जिलाधिकारी ने एसडीएम टिहरी को तीन दिन के भीतर जांच कर रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये।
ग्राम काण्डा पट्टी सारज्यूला की श्रीमता देवी ने अपनी माता की मृत्यु के बाद ग्राम फैगुल की भूमि का दाखिला खारिज उनके एवं उनकी भहनों के नाम करवाने का अनुरोध किया गया, जिस पर एसडीएम टिहरी को प्रकरण का नियमानुसार निस्तारण करने को कहा गया।

Advertisement

ग्राम पंचायत मठियाणगांव निवासियों ने शिकायत की है कि गांव मंे भूमि एवं बिजली संयोजन के बावजूद मोबाइल टावर स्थापित नहीं किया गया है, जिस पर डीडीएमओ को बीएसएनएल से समन्वय कर अद्यतन रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये।

जनता मिलन कार्यक्रम में जयेन्द्र सिंह पडियार ने विकासखण्ड थौलधार के प्रा.वि. भवन गैर नगुण का मरम्मत कार्य करवाने, अध्यक्ष विद्यालय प्रबन्धन समिति रा.प्रा.वि. बागी चम्बा ने रा.प्रा.वि. बागी भवन के जीर्ण-शीर्ण के चलते पुनः निर्माण करवाने, मकान सिंह राणा ने ग्राम पोखरी तहसील कण्डीसौंड वि.ख. थौलधार में हुए वन पंचायत गठन का प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने, पूर्व सैनिक भागचन्द रमोला ने जल जीवन मिशन के तहत बिछायी गई पेयजल लाइन से मकान को खतरा बताते हुए उचित कार्यवाही करने, ग्राम डोबरा टिहरी के जगतराम भट्ट ने गंगलोगी-ज्ञानसू मोटर मार्ग निर्माण में उनकी अधिग्रहित भूमि की जानकारी चाही गयी।
जिलाधिकारी ने उक्त प्रकरणों सहित अन्य प्रकरणों को संबंधित अधिकारियों को प्रेषित कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये तथा शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए समयान्तर्गत निस्तारण करने को कहा गया।

Advertisement

इस मौके पर जिलाधिकारी ने मानसून सीजन के दृष्टिगत सड़क से संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि सड़क कटिंग का मलवा सड़क और जल भराव वाले स्थलों पर न हो और सड़क किनारे नालियों की साफ-सफाई करवाना सुनिश्चित कर लें।
स्वास्थ्य विभाग को सभी एम्बुलेंस को एक्टिव मोड मे ंरखने तथा 108 आपताकालीन सेवा के संबंधितों के साथ बैठक करने, सभी एसडीएम को ड्रेनेज एवं नालियों की सफाई को लेकर नगर निकायों के ईओ के साथ बैठक करने, ईओ को जल भराव एवं भूस्खलन को लेकर क्षेत्रों में जाकर विजिट कर समस्याओं का निस्तारण करने, जल संस्थान एवं विद्युत विभाग के अधिकारियों को पर्याप्त मात्रा में सामाग्री रखने, बाल विकास विभाग के अधिकारी को आंगनवाड़ी केन्द्रों का औचक निरीक्षण करने तथा सीडीपीओ के साथ बैठक करने के निर्देश दिये गये।

इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा सीएम हेल्पलाइन, जिला योजना आदि के संबंध में विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा की गई। सभी विभागीय अधिकारियों को केन्द्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं के जानकारी संबंधी साइन बोर्ड अपने कार्यालयों सहित सार्वजनिक स्थलों पर लगाने, चयनित लाभार्थियों की सूची जनप्रतिनिधियों को उपलब्ध कराने के साथ ही पंचायत घरों में चस्पा करने के निर्देश दिये गये।
अनुशासित प्रदेश के तहत प्रत्येक अधिकारी द्वारा क्षेत्रीय निरीक्षण रिपोर्ट डीडीओ कार्यालय को उपलब्ध कराने को कहा गया।

Advertisement

इस अवसर पर सीडीओ अभिषेक त्रिपाठी, एडीएम के.के मिश्रा, एएसपी जे.आर. जोशी, पीडी डीआरडीए विवेक उपाध्याय, डीडीओ मो. असलम, सीएमओ मनु जैन, टीओ बालक राम सहित अन्य अधिकारी भौतिक एवं वर्चुअल माध्यम से उपस्थित रहे।

Advertisement

Related posts

Uttarakhand: IAS दिलीप जावलकर होंगे प्रदेश के नए गृह सचिव, चुनाव आयोग ने लगाई नाम पर मुहर

cradmin

ब्रेकिंग:-उत्तराखण्ड सरकार की महत्वकांक्षी योजना ‘‘दीनदयाल मातृ-पितृ तीर्थाटन योजना‘‘ के अन्तर्गत 30 यात्रियों के जत्थे को तहसील गजा से इस पवित्र धाम के लिए किया गया रवाना।

khabaruttrakhand

Haridwar: उपराष्ट्रपति Jagdeep Dhankhar के दौरे के लिए तैयारी में, रूट हुए डायवर्ट; चप्पे-चप्पे पर तैनात होंगे जवान

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights