khabaruttrakhand
उत्तराखंड

Uttarakhand Cabinet ने बेटों के लिए भी महालक्ष्मी सुरक्षा कवच का विस्तार किया, जन्म पर बेटियों के समान लाभ प्रदान किया: प्रस्ताव को मंजूरी दी गई

Uttarakhand Cabinet ने बेटों के लिए भी महालक्ष्मी सुरक्षा कवच का विस्तार किया, जन्म पर बेटियों के समान लाभ प्रदान किया: प्रस्ताव को मंजूरी दी गई

Uttarakhand में, बेटियों की तरह, अब पुत्रों को भी महालक्ष्मी सुरक्षा कवच मिलेगा। इस योजना का लाभ पहले दो बच्चों के जन्म पर मिलेगा, चाहे वह बेटी हो या बेटा। इस प्रस्ताव को Dhami cabinet में मंजूरी मिल गई है। मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना को राज्य में 17 July 2021 को शुरू किया गया था।

इस योजना का उद्देश्य माता और बालिका शिशु को पैदा होने के बाद पोषण, अतिरिक्त देखभाल प्रदान करना और जेंडर असमानता को हटाना था, लेकिन अब सरकार ने निर्धारित किया है कि इस योजना के लाभ को बेटियों के जन्म के साथ-साथ पुत्रों को भी प्रदान किया जाएगा। प्रस्ताव में कहा गया है कि यह योजना के लाभ को पहले दो बच्चों के जन्म पर प्रदान किया जाएगा, चाहे वह बेटा हो या बेटी।

Advertisement

इसमें यह लाभ है

महालक्ष्मी किट में 250 ग्राम बादाम कर्नल, अखरोट, सुखा खुबानी, 500 ग्राम खजूर, दो जोड़ी सॉक्स, स्कार्फ, दो तौलिये, शॉल, ब्लैंकेट, बेडशीट, दो पैकेट्स सैनिटरी नैपकिन्स, 500 ग्राम सरसों का तेल, साबुन, नेल कटर शामिल हैं, जबकि किट में बेटियों को दो जोड़ी कॉटन और गरम कपड़े, टोपी, सॉक्स, 12 लॉइंगच्लॉथ्स, तौलिया, बेबी सोप, रबर शीट, गरम ब्लैंकेट, टीकाकरण और पोषण कार्ड होते हैं।

जो पहले सिर्फ बेटियों के जन्म पर दिया जाता था, वह अब पुत्रों के जन्म पर भी दिया जाएगा। यह निर्णय जनता की भावनाओं को ध्यान में रखकर लिया गया है।

Advertisement

Related posts

दीपावली के उपलक्ष में जिला प्रशासन टिहरी गढ़वाल द्वारा जिला कलेक्ट्रेट परिसर नई टिहरी में दो दिवसीय ‘‘दीपावली आजीविका मेले‘‘ का किया गया आयोजन।

khabaruttrakhand

ब्रेकिंग:-उत्तराखंड की बदहाल सड़कों के विरोध में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत मोहान चेक पोस्ट पर अपने समर्थकों के साथ बैठे

khabaruttrakhand

शीघ्र दूर होगी आयुष्मान पोर्टल की तकनीकी समस्या – एम्स सहित विभिन्न राज्यों के अस्पतालों में आ रही है दिक्कतें।

khabaruttrakhand

Leave a Comment

Verified by MonsterInsights